लाइव टीवी

ऊना : सेना में भर्ती प्रक्रिया विवादों में, सिख युवकों ने हाईकोर्ट जाने की दी चेतावनी

Amit Sharma | News18 Himachal Pradesh
Updated: January 15, 2020, 4:10 PM IST
ऊना : सेना में भर्ती प्रक्रिया विवादों में, सिख युवकों ने हाईकोर्ट जाने की दी चेतावनी
ऊना के सिख युवकों ने आरोप लगाया कि गैर जरूरी दस्तावेजों का हवाला देकर सेना भर्ती में नहीं दिया गया प्रवेश.

सेना भर्ती (Army recruitment) प्रक्रिया से निराश करीब 70 युवा ऊना (Una) सदर के विधायक सपताल सिंह रायजादा (Satpal Singh Raizada) से मिले और उनसे न्याय दिलाने की गुहार लगाई. युवाओं का आरोप है कि सेना की भर्ती प्रक्रिया में धांधली हुई है. उन्होंने चेतावनी के स्वर में कहा है कि अगर सेना भर्ती को रद्द कर पुन: सेना में भर्ती का आयोजन नहीं किया गया तो वे हाईकोर्ट (High Court) का दरवाजा खटखटाएंगे.

  • Share this:
ऊना. जिला के सिख युवकों ने सेना भर्ती (Army recruitment) प्रक्रिया पर सवाल उठाए हैं. युवाओं का आरोप है कि पूरे दस्तावेज (Documents) होने के बाद भी उन्हें भर्ती प्रक्रिया से बाहर कर दिया गया. युवाओं का आरोप है कि भर्ती प्रक्रिया के दौरान उनसे ऐसे दस्तावेज मांगे गए जो जरूरी नहीं थे. इस मामले को लेकर बुधवार को सेना भर्ती प्रक्रिया से निराश करीब 70 युवा ऊना सदर के विधायक सपताल सिंह रायजादा (Satpal Singh Raizada) से मिले और उन्हें ज्ञापन (Memorandum) सौंपा. युवाओं ने विधायक से न्याय दिलाने की गुहार लगाई है. युवाओं का आरोप है कि सेना की भर्ती प्रक्रिया में धांधली हुई है. ऐसे में देश सेवा का सपना संजोए बैठे ऊना के युवाओं का भविष्य खतरे में पड़ गया है. युवाओं ने चेतावनी के स्वर में कहा है कि अगर सेना भर्ती को रद्द कर पुन: सेना में भर्ती का आयोजन न किया गया तो मजबूर होकर उन्हें हाईकोर्ट (High Court) का दरवाजा खटखटाना पड़ेगा.

विधायक ने हर संभव सहायता का दिया आश्वासन

वहीं विधायक सतपाल सिंह रायजादा ने कहा कि प्रदेश व केंद्र सरकार में कभी पटवारी भर्ती तो कभी पुलिस भर्ती पर सवाल उठे हैं. अब सेना भर्ती पर भी सवाल उठ रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर युवा हाईकोर्ट में केस दायर करना चाहते हैं तो उनकी हर संभव सहायता की जाएगी. उन्होंने मांग उठाई कि ऊना के युवाओं के लिए सेना भर्ती का पुन: आयोजन किया जाए.

विधायक सतपाल सिंह रायजादा ने कहा कि युवा हाईकोर्ट में केस दायर करना चाहते हैं तो उनकी हर संभव सहायता की जाएगी.


पहले भी हुआ था विवाद

बता दें कि ऊना मुख्यालय पर स्थित इंदिरा मैदान में 9 से 13 जनवरी तक हुई सेना भर्ती प्रक्रिया में इससे पहले भी विवाद हुआ था. दरअसल भर्ती की चलती दौड़ में दो युवकों के घुसने का वीडियो वायरल होने का मामला सामने आया जिसे सेना अधिकारियों ने सुलझा लिया. तब सेना अधिकारियों ने युवाओं के भविष्य को देखते हुए कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करने का निर्णय लिया था.

ये  भी पढ़ें - हिमाचल में बेखौफ बदमाश: फैक्ट्री में घुसे, मालिक के सिर पर गन रख मांगे 10 लाखये भी पढ़ें - हिमाचल पुलिस की कस्टडी से रेप केस का आरोपी कैदी फरार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऊना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 4:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर