ऊना: प्रधान से पंचायत सचिव ने ली 15 हजार रुपये रिश्वत, विजिलेंस ने किया गिरफ्तार

ऊना में रिश्वत लेते हुए पंचायत सचिव गिरफ्तार.
ऊना में रिश्वत लेते हुए पंचायत सचिव गिरफ्तार.

Una Bribe Case: प्रीवेंशन आफ करप्शन एक्ट की धारा सात के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. मंगलवार को आरोपी पंचायत सचिव को अदालत में पेश किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2020, 7:30 AM IST
  • Share this:
ऊना. हिमाचल प्रदेश के ऊना (Una) जिला मुख्यालय की नजदीकी पंचायत बहडाला के सचिव को विजिलेंस (Vigilance) की टीम ने 15 हजार रुपए की रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगे हाथों दबोचा है. स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो की ऊना टीम ने पंचायत प्रधान की शिकायत के आधार पर कार्रवाई करते हुए जाल बिछाया और सचिव को रिश्वत (Bribe) की राशि के साथ रंगे हाथों दबोच लिया. विजिलेंस ने आरोपी सचिव को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है और उसे मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा.

इसलिए मांगी थी रिश्वत

पंचायत में किए गए विकास कार्यों के बिल पास करने के लिए पंचायत सचिव ने प्रधान से ही 15 हजार रुपए की रिश्वत की मांग कर डाली. विकास कार्यों के बिल पास करने के लिए जहां पंचायत प्रधान के हस्ताक्षर की आवश्यकता होती है, वहीं, उसके साथ ही पंचायत सचिव के भी हस्ताक्षर इन बिलों को पास करने के लिए अनिवार्य हैं, तभी ग्राम पंचायत द्वारा किए गए किसी भी विकास कार्य की पेमेंट की जा सकती है.



विजिलेंस ने दबोचा
स्टेट विजिलेंस एंड एंटी करप्शन ब्यूरो ऊना के एडिशनल एसपी सागर चंद्र ने हुए बताया बताया कि विजिलेंस को दी शिकायत में पंचायत प्रधान सोनिया राणा ने बताया कि विकास कार्यों के बिल पास करने के लिए पंचायत सचिव उनसे 15 हजार रुपए की मांग करने लगा. पंचायत प्रधान की शिकायत के आधार पर विजिलेंस ने एफआईआर दर्ज की. एफआईआर दर्ज करने के बाद सोमवार को पंचायत सचिव को रंगे हाथों दबोचने के लिए विजिलेंस ने जाल बिछाया. इसी के तहत पंचायत सचिव को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है, जिसके चलते उसके खिलाफ प्रीवेंशन आफ करप्शन एक्ट की धारा सात के तहत मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया है. मंगलवार को आरोपी पंचायत सचिव को अदालत में पेश किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज