11.70 करोड़ का गबन मामला: ऊना में गगरेट पुलिस थाना प्रभारी, सह-प्रभारी सस्पेंड

हिमाचल पुलिस का जवान सस्पेंड.
हिमाचल पुलिस का जवान सस्पेंड.

एसपी ऊना ने दावा किया है की जल्द इस मामले में जांच पूरी की जाएगी. एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने गगरेट पुलिस थाना में तैनात एक इंस्पेक्टर व एक सब इंस्पेक्टर को सस्पेंड करने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि इस मामले में जांच की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 10:50 AM IST
  • Share this:
गगरेट (ऊना). हिमाचल प्रदेश के ऊना (Una) जिले में दियोली सहकारी सभा में हुए लगभग 11.70 करोड़ के गबन मामले में जांच में लापरवाही व देरी को लेकर एसपी ऊना ने गगरेट पुलिस थाना के दो पुलिस अधिकारियों को निलंबित किया है. इनमें एक इंस्पेक्टर (Inspector) और दूसरे सब इंस्पेक्टर (Sub inspector) रैंक के शामिल हैं. एसपी की सख्त कार्रवाई से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है।

जांच में देरी का आरोप
बताया जा रहा है कि ऊना जिले के बहुचर्चित दियोली सहकारी सभा के गबन मामले में जांच में लापरवाही व देरी सामने आई है. इस पर एसपी ने यह सख्त कदम उठाया है. दियोली सहकारी सभा में घोटाले को लेकर केस दर्ज करने के बाद पुलिस का एक विशेष जांच दल यूनिट का गठन किया गया था, ताकि जांच तेजी से हो, लेकिन इस मामले में एसआईटी कुछ खास न कर पाई. अब एसपी ऊना ने इस जांच का ज़िम्मा थाना प्रभारी चिंतपूर्णी को सौंपा है. इसमें गगरेट के एक एएसआई भी शामिल होंगे.

जल्द जांच होगी पूरी
एसपी ऊना ने दावा किया है की जल्द इस मामले में जांच पूरी की जाएगी. एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने गगरेट पुलिस थाना में तैनात एक इंस्पेक्टर व एक सब इंस्पेक्टर को सस्पेंड करने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि इस मामले में जांच की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज