हिमाचल BJP विधायक के रिश्तेदार की JCB का चालान काटने वाले पुलिसकर्मी का ट्रांसफर

हिमाचल प्रदेश पुलिस.

Una Policemen Transferred: एसपी ऊना अर्जित सेन ने बताया कि इन तबादला आदेशों का जेसीबी के मामले कोई संबंध नहीं है. यह रूटीन की प्रक्रिया है, करीब 22 पुलिस कर्मचारियों के तबादला आदेश जारी किए गए है. खनन माफिया पर पुलिस की कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी.

  • Share this:
ऊना. सत्ता की धौंस और दुरुपयोग किस तरह होता है, इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला है. मामला हिमाचल प्रदेश के ऊना (Una) जिले का है. दरअसल, चंद रोज पहले जिस पुलिस कर्मी ने भाजपा विधायक (BJP MLA) के रिश्तेदार की जेसीबी (JCB) का चालान काटा था. अब उस पुलिस कर्मी का तबादला कर दिया गया है, जिससे साफ है कि गगरेट क्षेत्र में खनन माफिया के हौसले बुलंद हो गए है.

पुलिस कर्मियों का तबादला रूटीन प्रक्रिया
पुलिस अधिकारी और एसपी ऊना इस तबादला आदेशों को रूटीन की प्रक्रिया बता रहे हैं. पुलिस का दावा है कि उक्त पुलिस कर्मी के अलावा अन्य 22 और कर्मचारियों का तबादला किया गया है. अवैध खनन पर कार्रवाई करने वाले पुलिस कर्मी के तबादले पर एसपी ऊना की दलील जनता के गले नहीं उतर रही है.

पुलिस कर्मी को दी गई थी धमकी
पुलिस कर्मी को खनन माफिया ने पहले ही तबादले की धमकी दी थी. अहम बात यह है कि उक्त पुलिस कर्मी ने महज 29 अक्टूबर को ही गगरेट पुलिस थाना में अपनी ड्यूटी ज्वाइन की थी. अब पुलिस कर्मी को खनन माफिया ने तबादले की धमकी के तुरंत बाद यह तबादला आदेश जारी होने से विभाग की कार्य प्रणाली पर सवाल जरूर उठ रहे हैं. अब सवाल उठ रहे हैं कि आखिर पुलिस ने किसके इशारे पर उक्त पुलिस कर्मी का तबादला किया या पुलिस विभाग की क्या मजबूरी थी कि उसे एक माह में बदलना पड़ा.

क्या बोले एसपी ऊना
एसपी ऊना अर्जित सेन ने बताया की इन तबादला आदेशों का जेसीबी के मामले कोई संबंध नहीं है. यह रूटीन की प्रक्रिया है, करीब 22 पुलिस कर्मचारियों के तबादला आदेश जारी किए गए है. खनन माफिया पर पुलिस की कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.