होम /न्यूज /history / जानें! क्या कहता है 17 जुलाई का इतिहास

जानें! क्या कहता है 17 जुलाई का इतिहास

नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 जुलाई का अपना ही खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई। 17 जुलाई की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है।

नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 जुलाई का अपना ही खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई। 17 जुलाई की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है।

नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 जुलाई का अपना ही खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों म ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली। नई दिल्ली। भारतीय एवं विश्व इतिहास में 17 जुलाई का अपना ही खास महत्व है। इस दिन कई ऐसी घटनाएं घटी जो इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गई। 17 जुलाई की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है।

    17 जुलाई 1429- डोफिन की फ्रांस के राजा के रुप में ताजपोशी की गई।

    17 जुलाई 1453- कैस्टिलियन के पहले युद्व में फ्रांसीसी सेनाओं ने इंग्लैंड को पराजित किया।

    17 जुलाई 1489- निजाम खान को सिकंदर शाह लोदी द्वितीय के नाम से दिल्ली का सुल्तान घोषित किया गया।

    17 जुलाई 1549- यूरोपीय देश बेल्जियम के घेंट इलाके से यहूदियों को बाहर निकाला गया।

    17 जुलाई 1712- इंग्लैंड, पूर्तगाल और फ्रांस ने युद्वविराम संधि पर हस्ताक्षर किए।

    17 जुलाई 1898- स्पेन, अमेरिका युद्व, स्पेनी सेना ने क्यूबा के सेंटियागो क्षेत्र में अमेरिका के समक्ष आत्मर्समपण
    किया।

    17 जुलाई 19।9- यूरोपीय देश फिनलैंड में संविधान को स्वीकृति प्रदान की गई।

    17 जुलाई 1929- सोवियत संघ ने चीन के साथ कूटनीतिक संबंध समाप्त किए।

    17 जुलाई 1948- भारत में महिलाओं को भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा समेत सभी सार्वजनिक
    सेवाओं में भर्ती होने के योग्य माना गया।

    17 जुलाई 1950- भारत की पहली यात्री विमान दुर्घटना पंजाब के पठानकोट शहर के पास हुई।

    Tags: England, Europe, France, India, Spain

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें