Home /News /human-stories /

kanpur know why the super specialty insurance hospital has not been ready yet bjp mp alleges corruption

कानपुर:-जानिए आखिर क्यों अब तक बन कर तैयार नहीं हुआ सुपर स्पेशलिटी बीमा अस्पताल,बीजेपी सांसद ने लगाए भ्रष्टाचार के

X

कानपुर महानगर में 367 करोड़ से पाण्डु नगर में बन रहा सुपर स्पेशलिटी बीमा अस्पताल अभी तक अधर में लटका हुआ है.कई साल बीत गए लेकिन यह अस्पताल बनकर नहीं खड़ा हो पाया जिसके चलते कानपुर के सांसद सत्यदेव पचौरी ने इस मुद्दे को संसद में भी उठाया.जिसके बाल संसद की कमेटी ने ईएसआईसी ?

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट :- अखंड प्रताप सिंह ,कानपुर

    कानपुर महानगर में 367 करोड़ से पाण्डु नगर में बन रहा सुपर स्पेशलिटी बीमा अस्पताल अभी तक अधर में लटका हुआ है.कई साल बीत गए लेकिन यह अस्पताल बनकर नहीं खड़ा हो पाया जिसके चलते कानपुर के सांसद सत्यदेव पचौरी ने इस मुद्दे को संसद में भी उठाया.जिसके बाल संसद की कमेटी ने ईएसआईसी के महानिदेशक से इस विषय में रिपोर्ट मांगी है.वहीं अब विजिलेंस की टीम कानपुर में ईएसआईसी के कार्यालय पहुंचकर जांच में भी जुटी गई है क्योंकि सांसद सत्यदेव पचौरी ने ईएसआईसी में हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर संसद में आवाज उठाई थी और मुख्य रूप से 367 करोड रुपए की लागत से बन रहे मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल के मुद्दे को उठाया था.

    कई सालों से बन रहा मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल

    कानपुर महानगर के पाण्डु नगर इलाके में 367 करोड़ रुपए से बीमा अस्पताल बनना था.विभाग को पैसे भी मिल गए थे लेकिन अभी तक काम अधूरा है.बिल्डिंग बन कर तैयार नहीं हो पाई और उपकरण भी खरीद लिए गए जो अब जंग खा रहे हैं.आप तस्वीरों में साफ तौर पर देख सकते हैं कि किस प्रकार से बिल्डिंग खंडहर में तब्दील हो चुकी है.

    सत्यदेव पचौरी ने संसद में उठाया था मुद्दा

    ईएसआईसी में हो रहे भ्रष्टाचार को लेकर और कानपुर में बन रहे इस बीमा अस्पताल का मुद्दा कानपुर से सांसद सत्यदेव पचौरी ने संसद भवन में उठाया था और मांग की थी कि सरकार के जो 367 करोड रुपए इस बीमा अस्पताल में लगे हुए हैं.वो विभाग के भ्रष्टाचारी रवैये और लापरवाही के चलते अब तक बनकर तैयार नहीं हो पाया है.

    विजिलेंस की टीम पहुंची करने जांच

    विजिलेंस की टीम जांच करने के लिए कानपुर पहुंची हुई है.विजिलेंस की टीम क्षेत्रीय कार्यालय में दस्तावेजों की जांच में जुटी हुई है.अस्पताल के रिकॉर्ड भी खंगाले जा रहे हैं और इस बारे में पता लगाया जा रहा है कि आखिर इस अस्पताल को बनाने में सरकार ने इतने पैसे खर्च कर दिए.लेकिन अभी तक क्यों अस्पताल बनकर तैयार नहीं हो पाया है और निर्माण कंप्लीट होने से पहले ही उपकरण क्यों खरीदे गए.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर