2011 वर्ल्ड कप फिक्सिंग के आरोपों के बाद आईसीसी ने लिया बड़ा फैसला, होगी पूछताछ!

भारत-श्रीलंका वर्ल्ड कप फाइनल 2011 मामले में होगी पूछताछ

भारत-श्रीलंका वर्ल्ड कप फाइनल 2011 मामले में होगी पूछताछ

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2011 (ICC World Cup 2011) के फाइनल में भारत ने श्रीलंका को हराकर दूसरी बार विश्व चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. साल 2011 का वर्ल्ड कप फाइनल (ICC World Cup Final 2011) टीम इंडिया ने बड़ी शान से जीता था. एमएस धोनी ने छक्का लगाकर भारत को दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बनाया था. आज भी वो मुकाबला हर भारतीय फैन के लिए बेहद खास है. हालांकि अब उस मुकाबले पर और भारत की जीत पर गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं. श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे ने आरोप लगाया है कि भारत-श्रीलंका वर्ल्ड कप 2011 फाइनल फिक्स था. ये आरोप कितने सही हैं और कितने गलत ये तो कोई नहीं जानता लेकिन आईसीसी इस मामले में गंभीर है. आईसीसी की टीम जल्द ही इस मामले में पूछताछ करने वाली है.

पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे से होगी पूछताछ

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आईसीसी श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा के आरोपों को बेहद गंभीरता से ले रही है. उसने इस मामले में पूर्व खेल मंत्री से पूछताछ का मन बना लिया है. न्यूज वायर से बातचीत करते हुए आईसीसी के अधिकारी ने कहा, 'हम इस मामले में महिंदानंदा से बात करेंगे और देखेंगे कि ये मामला जांच के लायक है या नहीं.'

बता दें जब साल 2011 वर्ल्ड कप (ICC World Cup Final 2011)  हुआ था, उस दौरान महिंदानंदा अलुथगामगे खेल मंत्री थे. उन्होंने फाइनल मैच से पहले चुनी गई टीम पर सवाल भी खड़े किये थे. बता दें श्रीलंका ने फाइनल से पहले अपनी टीम में चार बदलाव किये थे. उन्होंने आरोप लगाया था कि टीम में चार बदलाव करने से पहले किसी से नहीं पूछा गया.
सानिया मिर्जा के साथ शादी करने के फैसले पर बोले शोएब मलिक, कहा- एक राजनेता...



हरभजन सिंह को परिवार के साथ योग करते रोहित ने किया ट्रोल, कहा - पाजी सांस...

श्रीलंकाई दिग्गजों ने आरोपों को बताया बकवास

बता दें श्रीलंका के कई दिग्गज खिलाड़ियों ने इन आरोपों को बकवास और राजनीति से प्रेरित बताया है. पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने ने कहा कि श्रीलंका में चुनाव से पहले ऐसी बयानबाजी हो रही है. वहीं कुमार संगकारा ने भी पूर्व खेली मंत्री के आरोपों को गलत बताया. उन्होंने कहा कि अगर ये आरोप सही हैं तो वो आईसीसी को सबूत दें. यही नहीं श्रीलंका के दिग्गज बल्लेबाज अरविंद डी सिल्वा ने भी इन आरोपों को गलत बताया है लेकिन उन्होंने साथ ही ये भी कहा है कि संतुष्टि के लिए जांच कराने में कोई दिक्कत नहीं.

डी सिल्वा ने कहा, 'मुझे लगता है कि सचिन और करोड़ों भारतीय फैंस के लिए भारत सरकार, बीसीसीआई और श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड को इसकी निष्‍पक्ष जांच करनी चाहिए. भारत ने 2011 मुंबई में श्रीलंका को हराकर वर्ल्‍ड कप (ICC World Cup Final 2011) जीता था और इसी के साथ सचिन तेंदुलकर का अधूरा सपना भी पूरा हुआ था.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज