गुमला में 14 वर्षीय नाबालिग ने मुखिया के चाचा ससुर को मारी गोली, बाल-बाल बचे

एक नाबालिग ने व्यक्ति की गोली मारकर हत्या का प्रयास किया है.
एक नाबालिग ने व्यक्ति की गोली मारकर हत्या का प्रयास किया है.

जिला मुख्यालय से एक गांव में 14 वर्षीय नाबालिग (Minor) ने मुखिया के चाचा ससुर को गोली मार दी (Shot) और भागने लगा. हालांकि गोली शरीर के एक हिस्से को छूकर निकल गई. वहीं ग्रमीणों ने आरोपी को पकड़कर पुलिस (Police) के हवाले कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 4, 2020, 8:12 PM IST
  • Share this:
गुमला. जिला मुख्यालय से सटे फसिया पंचायत में रविवार शाम को मुखिया के 14 वर्षीय नाबालिग बेटे ने मुखिया के चाचा ससुर बालगोबिंद को गोली मार दी (Shot) और भागने लगा. गोली की आवाज सुनते ही आसपास के लोगों ने नाबालिग को पकड़कर पुलिस (Police) के हवाले कर दिया. इसके बाद बालगोबिंद को इलाज के लिए अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराया गया.

बालगोविंद ने बताया कि वो शाम को अपनी पत्नी आशा देवी के साथ धान मीसने का तैयारी कर रहा था. इसी बीच बाइक में सवार होकर नाबालिग पहुंचा और सिक्सर निकालकर बालगोबिंद के सीने पर गोली चला दी. लेकिन गोली शरीर को छूकर निकल गई. इस घटना में बालगोबिंद को हल्की चोटे आई है. आसपास के लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी है. सूचना पर एसआई विमल कुमार घटना स्थल पर पहुंचे और मामले की जांच शुरू कर दी. वहीं पुलिस आरोपी को हथियार के साथ पकड़कर थाना ले गई है.

Hathras Case: पीड़ित परिवार से मिले भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, कहा- दहशत में परिवार, मिले 'Y' श्रेणी की सुरक्षा



बालगोबिंद बड़ाईक ने बताया कि उसे संदेह है कि मुखिया मालती बड़ाईक के पति राजन बड़ाईक के कहने पर उसके 14 वर्षीय नाबालिग भांजा ने गोली चलाई है. उन्होंने बताया कि वह स्वयं आगामी मुखिया के चुनाव की तैयारी कर रहा है. अभी राजन की पत्नी मालती बड़ाईक मुखिया है. इससे पूर्व राजन स्वयं मुखिया था. बालगोबिंद ने आरोप लगाया कि अपने वर्चस्व को कायम रखने के लिए जान मारने की नियत से गोली चलाई गई है.
फसिया पंचायत की मुखिया मालती बड़ाईक ने कहा कि अभी चुनाव काे लेकर किसी प्रकार की घोषणा नहीं हुई है. हो सकता है कि परिसीमन में फसिया पंचायत नगर परिषद में आए. चुनाव लड़ने का सबको हक है. हम अपने चाचा ससुर को क्यों गोली मरवायेगें. पुलिस जांच कर कार्रवाई कर रही है. एसआई विमल कुमार ने बताया कि नाबालिग को ग्रामीणों द्वारा रस्सी से बांधकर रखा गया था. पुलिस के पहुंचने के बाद उसे थाने में लाया गया है. आरोपी के पास से सिक्सर, दो खोखा और तीन जिंदा गोली बरामद हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज