बोकारो जिले की सारी जमीन के कागजात हुए ऑनलाइन

बोकारो औद्योगिक नगरी होने के साथ-साथ शिक्षा के लिए भी जाना जाता है. सरकार की मुस्तैदी का नतीजा है कि यहां ज़मीन के सारे काग़ज़ात को डिजिटल रूप में परिवर्तित कर दिया गया है.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 12, 2017, 9:45 PM IST
बोकारो जिले की सारी जमीन के कागजात हुए ऑनलाइन
बोकारो औद्योगिक नगरी होने के साथ-साथ शिक्षा के लिए भी जाना जाता है. सरकार की मुस्तैदी का नतीजा है कि यहां ज़मीन के सारे काग़ज़ात को डिजिटल रूप में परिवर्तित कर दिया गया है.
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: September 12, 2017, 9:45 PM IST
बोकारो औद्योगिक नगरी होने के साथ-साथ शिक्षा के लिए भी जाना जाता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने में भी यह ज़िला किसी से पीछे नहीं रहा है.  सरकार की मुस्तैदी का नतीजा है कि यहां ज़मीन के सारे काग़ज़ात को डिजिटल रूप में परिवर्तित कर दिया गया है.

बेरमो अनुमंडल के सात अंचल के लैंड रिकॉर्ड को डिजिटल रूप में सुरक्षित कर दिया गया है. सरकार की इस पहल से जहां काग़ज़ात का रखना आसान हुआ है वहीं, भूमि संबंधी भ्रष्टाचार के मामलों में भी कमी आई है. स्थानीय लोग सरकार की इस पहल का खुले दिल से स्वागत कर रहे हैं.

डिजिटल झारखंड बनाने के साथ ही सरकार स्वास्थ्य सेवा को लेकर भी गंभीर है. मोमेंटम झारखंड के दौरान रघुवर सरकार ने सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल का ऑनलाइन शिलान्यास किया था, जिसका निर्माण कार्य अब शुरू होने वाला है. 300 बेडवाले इस अस्पताल को लेकर दिल्ली से पहुंची टीम ने निर्माण कार्य को हरी झंडी दे दी है.  अस्पताल का निर्माण हो जाने से बोकारो के अलावा धनबाद, गिरिडीह और आसपास के लोगों को फायदा पहुंचेगा.

राज्य का सर्वांगीण विकास झारखंड सरकार की प्राथमिकता में शामिल है. विकास कार्यों को अमली जामा पहनाने के उद्देश्य राज्य मशीनरी दिनरात काम कर रही है. बोकारो ज़िला भी विकास के रास्ते पर चल पड़ा है. जीवन के सभी क्षेत्रों में व्यापक परिवर्तन देखा जा रहा है. आने वाले दिनों में सरकार की कल्याणकारी कार्यों का और भी प्रभाव देखने को मिलेगा.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर