लाइव टीवी

आचार संहिता उल्लंघन मामले में बाबूलाल मरांडी तेनुघाट कोर्ट से बरी

News18 Jharkhand
Updated: April 3, 2019, 4:12 PM IST
आचार संहिता उल्लंघन मामले में बाबूलाल मरांडी तेनुघाट कोर्ट से बरी
बाबूलाल मरांडी (फाइल फोटो)

अधिवक्ता अनंत मोहन सिन्हा ने बताया कि आरोप साबित करने में अभियोजन पक्ष असफल रहा. इसलिए कोर्ट ने तीनों नेताओं को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया.

  • Share this:
पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को तेनुघाट कोर्ट ने आचार संहिता उल्लंघन मामले में बरी कर दिया. कोर्ट ने उन्हें साक्ष्य के अभाव में बरी किया. पूर्व सीएम के अलावा दो अन्य जेवीएम नेता को भी बरी किया गया.

साल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान बाबूलाल मरांडी पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज हुआ था. इस सिलसिले में तेनुघाट कोर्ट में बाबूलाल मराडी, शबा अहमद और जयदेव राय पेश हुए. एसएन कुजूर की अदालत ने तीनों नेताओं को साक्ष्य के अभाव में निर्दोष करार दिया.

वरिष्ठ अधिवक्ता अनंत मोहन सिन्हा ने बताया कि आरोप साबित करने में अभियोजन पक्ष असफल रहा. इसलिए कोर्ट ने तीनों नेताओं को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया. इससे पहले बोकारो पहुंचने पर बाबूलाल मरांडी ने दावा किया कि महागठबंधन में किसी तरह की कोई टूट नहीं है. चतरा- गोड्डा विवाद का हल निकाल लिया जाएगा.

रिपोर्ट- ज्ञानेंदू

ये भी पढ़ें- टिकट मिलने पर बोले सुबोधकांत- देश और जनतंत्र को बचाने के लिए जनता लड़ेगी चुनाव

लोकसभा चुनाव 2019: दरभंगा से पत्‍ता कटने के बाद यहां से किस्मत आजमा सकते हैं कीर्ति आजाद

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बोकारो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 3, 2019, 4:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...