Home /News /jharkhand /

Judge Uttam Anand Death Case: बोकरो पहुंची CBI टीम, पुराने मामलों से जुड़े 2 दर्जन लोगों से पूछताछ

Judge Uttam Anand Death Case: बोकरो पहुंची CBI टीम, पुराने मामलों से जुड़े 2 दर्जन लोगों से पूछताछ

CBI Team in Bokaro: धनबाद के जज उत्‍तम आनंद की कथित सड़क दुर्घटना में हुई मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई की टीम बुधवार को बोकारो पहुंची थी. (फाइल फोटो)

CBI Team in Bokaro: धनबाद के जज उत्‍तम आनंद की कथित सड़क दुर्घटना में हुई मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई की टीम बुधवार को बोकारो पहुंची थी. (फाइल फोटो)

Dhanbad Judge Uttam Anand Death Case: धनबाद के जज उत्‍तम आनंद की मौत एक कथित सड़क दुर्घटना में हो गई थी. सीसीटीवी फुटेज में ऑटो ड्राइवर द्वारा उन्‍हें जानबूझ कर धक्‍का मारने की बात सामने आई. इसके बाद से ही जज उत्‍तम आनंद की हत्‍या करने की बात ने जोर पकड़ ली. झारखंड हाई कोर्ट की निगरानी में CBI इस हाइप्रोफाइल मामले की जांच कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

    मृत्‍युंजय कुमार

    बोकारो. धनबाद के जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश उत्‍तम आनंद की मौत की गुत्‍थी अभी भी पूरी तरह से नहीं सुलझ पाई है. मामले की जांच में जुटी CBI की एक टीम बुधवार शाम को बोकारो पहुंची. टीम ने बोकारो थर्मल और पेंक-नारायणपुर थाने में तकरीबन 2 दर्जन लोगों से पूछताछ की है. बताया जा रहा है कि ये सभी वे लोग हैं, जिनके मामलों की सुनवाई जज उत्‍तम आनंद की अदालत ने की थी. बता दें कि जज उत्‍तम आनंद तेनुघाट व्‍यवहार न्‍यायालय में भी पदस्‍थापित रहे थे. व्‍यवहार न्‍यायालय में तैनाती के दौरान उन्‍होंने कई मामलों में फैसले दिए थे और कई केस की सुनवाई भी की थी.

    जानकारी के अनुसार, सीबीआई की तीन सदस्‍यीय टीम बुधवार को बोकारो थर्मल और पेंक-नारायणपुर थाने पहुंची थी. सीबीआई के जांच अधिकारियों ने पेंक-नारायणपुर थाने में करीब एक दर्जन लोगों से और बोकारो थर्मल थाने में कई लोगों से पूछताछ की. सीबीआई की टीम दोनों थाना क्षेत्र के तकरीबन दो दर्जन लोगों से पूछताछ कर वापस लौट गई. 23 अक्टूबर को भी सीबीआई की टीम गोमिया पहुंची थी और और दर्जन भर लोगों से पूछताछ की थी. सीबीआई टीम को इस पूछताछ के दौरान कोई सुराग हाथ लगा या नहीं, इसकी जानकारी न तो सीबीआई की ओर से और न ही स्‍थानीय पुलिस की तरफ से दी गई है.

    वाह भारतीय रेल! चलती ट्रेन में महिला की हुई डिलीवरी, जच्‍चा-बच्‍चा की जान बचाने वापस लौटी संपर्क क्रांति एक्‍सप्रेस

     बता दें कि जज उत्तम आनंद की संदिग्ध मौत मामले में झारखंड हाई कोर्ट में सुनवाई हुई थी. इसमें कोर्ट ने सीबीआई की ओर से दायर चार्जशीट पर नाराजगी जाहिर की थी. सीबीआई को फटकार लगाते हुए कोर्ट ने मौखिक टिप्पणी करते हुए जांच एजेंसी की चार्जशीट को स्टीरियो टाइप बताया था. कोर्ट ने सवाल उठाया कि चार्जशीट में हत्या की धारा का कोई प्रमाण नहीं है. हाई कोर्ट ने चार्जशीट के मोटिव को गलत करार देते हुए कहा था कि सीबीआई बाबुओं की तरह काम कर रही है. मामले की अगली सुनवाई 29 अक्टूबर को होगी, जिसमें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सीबीआई निदेशक को भी उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है.

    गौरतलब है कि बीते 28 जुलाई 2021 को धनबाद के रणधीर वर्मा चौक के समीप मॉर्निंग वॉक के दौरान जज उत्‍तम आनंद को एक ऑटो ने धक्का मार दिया था. इस हादसे में उनकी मौत हो गई थी. सीसीटीवी फुटेज के पता चला कि जानबूझकर धक्का मारा गया था. इसके बाद मामले को जांच के लिए झारखंड हाई कोर्ट ने सीबीआई को सौंप दिया. जज उत्तम आनंद की मौत की सीबीआई जांच कर रही है. सीबीआई जांच की हर सप्ताह रांची हाई कोर्ट समीक्षा करता है. करीब तीन महीने की जांच के दौरान अब तक साजिश का पता नहीं चल सका है. सीबीआई साजिश का पता लगाने में जुटी है.

    Tags: Bokaro news, Dhanbad judge murder case, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर