चास एसडीओ ने किया सिटी सेंटर का निरीक्षण, कहा- जल्द मिलेगी जाम से निजात

डीओ सतीश चंद्र ने बीएसएल के अधिकारियो के साथ सिटी सेंटर का निरीक्षण कर जायजा लिया और वहां मौजूद बीएसएल के अधिकारियो के साथ ही सिटी सेंटर के कमेटी अध्यक्ष व अन्य सदस्यों के साथ मिलकर बातचीत की.

Gyanendu Jaipuriar | News18 Jharkhand
Updated: December 13, 2018, 10:22 AM IST
चास एसडीओ ने किया सिटी सेंटर का निरीक्षण, कहा- जल्द मिलेगी जाम से निजात
चास एसडीओ ने किया सिटी सेंटर का निरीक्षण, कहा- जल्द मिलेगी जाम से निजात
Gyanendu Jaipuriar | News18 Jharkhand
Updated: December 13, 2018, 10:22 AM IST
झारखंड के बोकारो में लोग रोज हो रहे जाम से काफी परेशान है. इसी को लेकर चास एसडीओ सतीश चंद्र ने बीएसएल के अधिकारियो के साथ सिटी सेंटर का निरीक्षण किया. दरअसल सेक्टर चार के सिटी सेंटर में पहुंचने वाले आम हो या खास सभी लोग जाम से परेशान होते नजर आते हैं. गाड़ियों की बढ़ती संख्या व छोटे दुकानदारों के द्वारा पार्किंग स्थल पर कब्जा कर लेने के कारण ऐसी स्थिति सिटी सेंटर के आस-पास बनी हुई है, जिसके बाद सडीओ सतीश चंद्र ने बीएसएल के अधिकारियो के साथ सिटी सेंटर का निरीक्षण कर जायजा लिया. सतीश चंद्र के साथ टीम में चास सीओ वंदना सेजवलकर, सिटी डीएसपी ज्ञानरंजन समेत पुलिस के अधिकारी भी शामिल रहे.

टीम का नेतृत्व कर रहे चास एसडीओ सतीश चंद्र ने सिटी सेंटर के विभिन्न हिस्सो में घूमकर स्थल का निरीक्षण किया और वहां मौजूद बीएसएल के अधिकारियो के साथ ही सिटी सेंटर के कमेटी अध्यक्ष व अन्य सदस्यों के साथ मिलकर बातचीत की. एसडीओ चास सतीश चंद्र ने कहा कि जल्द ही इस समास्या का समाधान कर लोगों को जाम से निजात दिलाई जाएगी, ताकि जो लोग यहां घूमने यहा खरीददारी करने आ रहे है उन्हें किसी प्रकार की समस्या नहीं हो. बता दें कि सिटी सेंटर का यह बाजार पूरे बोकारो और चास के लिए बड़ा बाजार माना जाता है.

यह भी पढ़ें- बोकारो: ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार पति-पत्नी की मौत, गुस्साए लोगों ने घंटों किया सड़क जाम

यह भी पढ़ें-  दीवार गिरने से एक महिला और बच्ची की मौत, आक्रोशित लोगों ने किया सड़क जाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बोकारो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2018, 10:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...