राशन दुकानदार की हत्या में शामिल पांच अपराधी गिरफ्तार, हथियार और कारतूस बरामद

पुलिस के मुताबिक अपराधियों ने लूटपाट का विरोध करने पर राशन दुकानदार दोनों भाइयों को गोली मार दी थी
पुलिस के मुताबिक अपराधियों ने लूटपाट का विरोध करने पर राशन दुकानदार दोनों भाइयों को गोली मार दी थी

एसपी चंदन कुमार झा ने बताया कि वारदात को जमशेदपुर (Jamshedpur) के तीन अपराधियों और बोकारो (Bokaro) के दो बदमाशों ने अंजाम दिया था. पुलिस ने पांचों को गिरफ्तार कर इनके पास से एक देशी पिस्तौल, एक देशी कट्टा, तीन जिंदा कारतूस, तीन खोखा, एक मिसफायर कारतूस और एक पीट्ठु बरामद किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 7:27 PM IST
  • Share this:
बोकारो. झारखंड के बोकारो (Bokaro) में पिछले दिनों हुए व्यवसायी की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया है. पुलिस अधीक्षक (एसपी) चंदन कुमार झा ने कहा कि इस हत्याकांड (Murder) को पांच अपराधियों ने अंजाम दिया है. उन्होंने बताया कि पुलिस ने कार्रवाई कर अलग-अलग जगहों से इन पांचों अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. झा के मुताबिक लूटपाट के दौरान विरोध करने पर राशन दुकानदार दो भाइयों को अपराधियों ने गोली मार दी थी जिससे उनमें से एक की मौत हो गई थी. उन्होंने बताया कि वारदात को जमशेदपुर (Jamshedpur) के तीन अपराधियों और बोकारो के दो बदमाशों ने अंजाम दिया था. पुलिस ने इनके पास से एक देशी पिस्तौल, एक देशी कट्टा, तीन जिंदा कारतूस, तीन खोखा, एक मिसफायर कारतूस और एक पीट्ठु बरामद किया है.

बता दें कि बीते छह सितंबर को माराफारी थाना क्षेत्र के रितूडीह में हथियारबंद अपराधियों ने लूटपाट के क्रम में राशन दुकानदार राजू गुप्ता और उनके भाई सुरेश गुप्ता को गोली मार दी थी. इस घटना में राजू गुप्ता की मौके पर ही मौत हो गई थी. जबकि सुरेश गुप्ता बुरी तरह घायल हो गए थे. इस हत्याकांड में कुख्यात अपराधी भानू मांझी का नाम आया था. पुलिस को कॉल डिटेल और सीसीटीवी के माध्यम से पता चला था कि हत्या में भानू का हाथ है. बोकारो को टिप मिली कि भानू जमशेदपुर में है. इसके बाद यहां से पुलिस की टीम जमशेदुपर पहुंची और एक हफ्ते तक यहां कैंप कर रही थी. बोकारो पुलिस ने स्थानीय पुलिस के सहयोग से रेड डालकर शूटर भानू मांझी को गिरफ्तार किया. पुलिस भानू के साथ अपराधी आकाश सिंह देव को भी गिरफ्तार कर जमशेदपुर से अपने साथ बोकारो ले कर आई. वारदात में शामिल तीसरा आरोपी राजीव राम भी जमशेदपुर का रहने वाला है जो वर्तमान में रांची जेल मे बंद है.

इन तीनों के अलावा वारदात में शामिल दो अन्य आरोपी- शाहनवाज अहमद और अमिर अंसारी बोकारो के रहने वाले हैं. पुलिस ने दो दिन पहले इन दोनों को डकैती की योजना बनाते बालीडीह थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया था.



एसपी चंदन कुमार झा के मुताबिक अपराधियों का मकसद गुप्ता स्टोर से पैसों की लूट की योजना थी. अपराधियो को पता था कि यहां प्रतिदिन लाखों रुपए की सेल होती है. घटना वाले दिन भी अपराधियों को पता था की दुकान में काफी पैसे हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस गिरफ्तार अपराधियों को रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज