Home /News /jharkhand /

झारखंड: 'आरपीएन सिंह के बीजेपी में जाने से कांग्रेस खत्म नहीं हो जाएगी'

झारखंड: 'आरपीएन सिंह के बीजेपी में जाने से कांग्रेस खत्म नहीं हो जाएगी'

Jharkhand Politics: झारखंड के शिक्षा मंत्री ने आरपीएन सिंह के कांग्रेस छोड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है.

Jharkhand Politics: झारखंड के शिक्षा मंत्री ने आरपीएन सिंह के कांग्रेस छोड़ने को लेकर बड़ा बयान दिया है.

Jharkhand Politics: झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (Education Minister Jagarnath Mahato) ने मंगलवार को बोकारो परिसदन में मीडिया से बात करते हुए कहा कि आरपीएन सिंह (RPN Singh) के बीजेपी में जाने से कांग्रेस खत्म नहीं हो जाएगी, पार्टियों के ट्रेन की बोगियां चल पड़ी है. कुछ लोग चढ़ रहे हैं तो कुछ लोग उतर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

रिपोर्ट- मृत्युंजय कुमार 

बोकारो. झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो (Education Minister Jagarnath Mahato) ने मंगलवार को बोकारो परिसदन में मीडिया से बात करते हुए कहा कि आरपीएन सिंह (RPN Singh) के बीजेपी में जाने से कांग्रेस खत्म नहीं हो जाएगी, पार्टियों के ट्रेन की बोगियां चल पड़ी है. कुछ लोग चढ़ रहे हैं तो कुछ लोग उतर रहे हैं. इसका मतलब यह नहीं है कि किसी पार्टी का अस्तित्व ही खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर विभिन्न राजनीतिक दलों में नेताओं का आना-जाना लगा हुआ है. यह सब राजनीति में चलता रहता है.


दरअसल शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो मंगलवार को बोकारो में थे. इस दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए ये सारी बातें कही. उन्होंने झारखंड में स्कूल खोलने को लेकर बड़ी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि स्कूल खोलने को लेकर 31 जनवरी को फैसला ले लिया जाएगा. आज भी सरकारी स्कूल के 40 लाख बच्चों में से 13 लाख सरकारी विद्यालयों के बच्चे तक ही ऑनलाइन शिक्षा पहुंच पाई है. इसलिए 31 जनवरी को विद्यालयों को खोलने के लिए फैसला ले लिया जाएगा.

‘सभी छात्रों को नहीं मिल रही ऑनलाइन क्लास की सुविधा’

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा कि कोरोना के कारण बच्चों की पढ़ाई बाधित हुई है. उसे हम ठीक करने का काम करेंगे. आज भी सरकारी विद्यालय के बच्चे ऑनलाइन की पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं. उन्होंने कहा कि राज्य में 40 लाख छात्र सरकारी विद्यालय में पढ़ते हैं, जिसमे से 13 लाख छात्र ही ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण कर पा रहे हैं ,जो सरकारी आंकड़ा है. उस आंकड़े पर भी हम गंभीरता से विश्वास नहीं कर सकते है. उन्होंने कहा कि नौवीं से बारहवीं तक के छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा देने के लिए मुख्यमंत्री से छात्रों को टैब देने की मांग रखी है, ताकि उनकी पढ़ाई ठीक से हो सके.

पहले खुलेंगे माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय 

बताया जाता है कि राज्य सरकार बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए 31 जनवरी के बाद से ही स्कूलों को खोलने पर विचार कर रही है. हालांकि स्कूलों के खोलने का अंतिम निर्णय मुख्यमंत्री की अध्यक्षता वाली राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में लिया जाएगा. स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग इसे लेकर प्राधिकार को अपना प्रस्ताव देगा. इस प्रस्ताव के तहत शुरुआत में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक कक्षाओं के लिए स्कूल खुल सकते हैं. खासकर मैट्रिक तथा इंटरमीडिएट की परीक्षाओं को लेकर इन कक्षाओं के लिए स्कूल खोलना आवश्यक बताया जा रहा है. ऐसे में बोर्ड परीक्षा को देखते हुए 31 जनवरी के बाद झारखंड में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय खुल सकते हैं.

Tags: Jharkhand Government, Jharkhand Politics, RPN Singh

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर