लाइव टीवी

गांव हो तो ऐसा, बोकारो के इस पंचायत में आकर यही कह उठते हैं लोग

News18 Jharkhand
Updated: January 29, 2019, 5:56 PM IST
गांव हो तो ऐसा, बोकारो के इस पंचायत में आकर यही कह उठते हैं लोग
बोकारो का नरकेरा गांव

बोकारो के चास के नरकेरा गांव की स्वच्छता की तारीफ जिलेभर में होती है. यहां पीएम मोदी का स्वच्छ भारत का सपना साकार दिखता है.

  • Share this:
झारखंड के बोकारो का नरकेरा पंचायत पीएम मोदी के स्वच्छता के सपने को साकार कर दिखाया है. इस गांव में आपको कहीं भी गंदगी नजर नहीं आएगी. ऊपर से घरों की दीवारों को इस कदर चित्रित किया गया है कि आप हर्षित होने से खुद को रोक नहीं पाएंगे. आज इस गांव की जिलेभर में सराहना होती है.

जिला मुख्यालय से 20 किलोमीटर दूर चास प्रखंड के नरकरा पंचायत में सारी सुविधाएं हैं. मसलन, सड़क, बिजली, पानी और शौचालय. पंचायत ओडीएफ घोषित हो चुका है. गांव की स्वच्छता के लिए मुखिया को सम्मानित भी किया जा चुका है. मुखिया सोनामुनि मुर्मू कहती हैं कि गांव के विकास को लेकर वह काफी गंभीर हैं और इस दिशा में गांववालों का पूरा सहयोग मिलता है. मुखिया के मुताबिक प्रशासन से भी मदद मिलती है.

नरकारा पंचायत की स्वच्छता की गूंज रांची तक सुनाई दी. जिसके बाद मुखिया सोनामुनि मुर्मू को मंत्री के हाथों सम्मानित होने का मौका मिला. गांव की महिलाएं कहती हैं कि पहले काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था, लेकिन अब पानी से लेकर सारी सुविधाएं गांव में उपलब्ध है.

डीडीसी रवि रंजन मिश्रा कहते हैं कि गांव को सुंदर व स्वच्छ बनाने को लेकर प्रशासन की ओऱ से हर संभव मदद की जाती है. ऐसे में नरकरा पंचायत से अन्य पंचायतों को सिख लेने की जरूरत है. ताकि उन पंचायतों को भी सम्मान मिल सके.

रिपोर्ट- ज्ञानेंदू 

ये भी पढ़ें- BAU के दीक्षांत समारोह में 501 छात्र- छात्राओं को मिले डिग्री व गोल्ड मेडल

18 साल बाद फिर से चालू होंगे ये दो माइंस, हजारों लोगों को मिलेगा रोजगार 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बोकारो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 29, 2019, 5:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर