लाइव टीवी

गरीबी बनी अभिशाप:इलाज के अभाव में पिता-पुत्री की मौत

Gyanendu | News18 Jharkhand
Updated: September 26, 2018, 7:42 PM IST
गरीबी बनी अभिशाप:इलाज के अभाव में पिता-पुत्री की मौत
पति और बेटी की मौत के बाद विलाप करती महिला

गरीबी अभिशाप बनकर एक परिवार के सामने आई और इलाज नहीं करा पाने के कारण घर के दो सदस्यों पिता व पुत्री की मौत हो गई जबकि एक पुत्र को स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.डायरिया के प्रकोप से अभी भी आठ मरीज निजी अस्पताल में इलाजरत हैं.

  • Share this:
गरीबी अभिशाप बनकर एक परिवार के सामने आई और इलाज नहीं करा पाने के कारण घर के दो सदस्यों पिता व पुत्री की मौत हो गई जबकि एक पुत्र को स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.डायरिया के प्रकोप से अभी भी आठ मरीज निजी अस्पताल में इलाजरत हैं लेकिन इसकी सूचना जिला प्रशासन के साथ स्वास्थ्य महकमे को भी नहीं है.यह घटना बोकारो शहर के बीचोंबीच स्थित सेक्टर नौ के स्ट्रीट 11 की है.जिस निजी अस्पताल को यह जिम्मेदारी थी कि इसकी सूचना प्रशासन के साथ स्वास्थ्य विभाग को देता तो शायद आयुष्मान योजना का लाभ मिलने से दोनों पिता पुत्री का जान बच सकती थी.

आठ दिनों से इस इलाके में डायरिया का प्रकोप फैला है और मरीज अपना इलाज निजी नर्सिंग होम सेक्टर नौ के एक निजी अस्पताल में करा रहे थे लेकिन यह गरीब परिवार के पास पैसा नहीं होने के कारण घर पर ही अपना इलाज करा रहा था. बुधवार को स्थिति बहुत गंभीर हो जाने के कारण परिवार के लोग आए और उसे बीजीएच ले जाने लगे तो पिता नागो रजक 50 वर्ष की मौत रास्ते में हो गई जबकि उसकी पांच वर्षीय पुत्री खुशबु कुमारी  ने घर पर ही दम तोड़ दिया. एक साथ दो मौत के बाद पूरा परिवार गमगीन है.मृतक झोपड़ी में रहकर कपड़ों पर प्रैस करके परिवार का भरण पोषण करता था.यहां सेक्टर नौ के स्ट्रीट 11,12 और 13 में डायरिया का प्रकोप है.

मृतक के भाई ने बताया कि उसके भाई के पास इलाज कराने के लिए पैसे नहीं थे.निजी अस्पताल में बतौर चिकित्सक व निजी नर्सिंग होम के संचालक का बयान है कि उन्हें यह नहीं पता कि डायरिया के कितने मरीज भर्ती हैं और कब से.अस्पताल के डॉक्टर प्रशासन को जानकारी भी नहीं देने पर गोलमोल जवाब देकर बचते दिखे.वहीं डीसी मृत्युंजय वरणवाल ने कहा कि जानकारी मिलने पर चिकित्सकों की टीम को मौके पर भेजा गया है.जो जानकारी निजी नर्सिंग होम ने नहीं दी, उसकी भी जांच कराई जाएगी.

यह भी पढ़ें - एसपी अमरजीत बलिहार हत्याकांड में दो नक्सलियों को फांसी की सजा

यह भी पढ़ें - दुमका से पाकुड़ लौटने के दौरान नक्सलियों ने दी थी एसपी बलिहार को खौफनाक मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बोकारो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 26, 2018, 7:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...