झारखंड: दो थानों के सीमा विवाद में घंटों मौके पर पड़ा रहा शव, नदी की धारा ने सुलझाई उलझन!

बोकारो में नदी की धारा ने दो थानों की उलझन सुलझाई.
बोकारो में नदी की धारा ने दो थानों की उलझन सुलझाई.

बोकारो (Bokaro) में नदी की धारा ने दो थानों के बीच सीमा विवाद को सुलझाया. इससे पहले घंटों मौके पर शव पड़ा रहा और दो थानों की पुलिस सीमा विवाद में उलझी रही.

  • Share this:
बोकारो. झारखंड के बोकारो (Bokaro) में दो थानों के बीच क्षेत्र विवाद के चलते घंटों शव मौके पर पड़ा रहा. इस दौरान सिटी थाना और चास थाने की पुलिस मौके पर सीमा तय करती नजर आई. बाद में सिटी थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. दरअसल एक शख्स का शव गरगा नदी (Garga River) के किनारे मिला, जिसके बाद ये पूरा बखेड़ा शुरू हुआ.

हालांकि जब लोगों की भीड़ मौके पर बढ़ने लगी तो फजीहत से बचने के लिए सिटी थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अनुमडंलीय अस्पताल चास भेज दिया. तब तक मृतक की पहचान नहीं हो पायी थी.

नदी ने सुलझाई उलझन



दरअसल गरगा नदी के किनारे शव मिलने पर स्थानीय लोगों ने डायल 100 पर इसकी सूचना पुलिस को दी. जानकारी मिलते ही चास थाना और सिटी थाने की पुलिस मौके पर पहुंची. जिसके बाद मौके पर सीमा को लेकर बखेड़ा शुरू हो गया. दोनों थानों की पुलिस शव के एक-दूसरे के एरिया में होने का दावा करने लगी. इस बीच थोड़ी देर बाद शव नदी की धारा के चलते बहकर सिटी थाना क्षेत्र में चला गया. जिसके बाद सिटी थाना पुलिस को मजबूरी में शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अनुमडंलीय अस्पताल चास भेजना पड़ा.
सिटी थाने की पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है. पुलिस के मुताबिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा कि शख्स की मौत कैसे हुई. ये हत्या का मामला है या फिर नदी डूबने से मौत हुई.

लोगों में पुलिस के प्रति नाराजगी

पुलिस के इस रवैये पर स्थानीय लोगों में नाराजगी देखी गई. स्थानीय निवासी दीपक कुमार ने कहा कि सीमा विवाद में पुलिस को ऐसा नहीं करना चाहिए. शव घंटों मौके पर पड़ा रहा. अगर वह पानी की तेज धारा में नदी में बह जाता तो इसके लिए कौन जिम्मेदार होता.

सिटी थाने में तैनात पुलिस अधिकारी अनिल कुमार ने कहा कि शव चास एरिया गरगा नदी के किनारे था. लेकिन बाद में बहकर सिटी थाना क्षेत्र में आ गया. इसलिए सिटी थाने की पुलिस ने इसे कब्जे में लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज