Home /News /jharkhand /

थैलीसीमिया पीड़ित परिवार को मदद की जरूरत, सरकार से लगाई गुहार

थैलीसीमिया पीड़ित परिवार को मदद की जरूरत, सरकार से लगाई गुहार

थैलीसीमिया पीड़ित परिवार ने सरकार से मदद की गुहार लगाई है

थैलीसीमिया पीड़ित परिवार ने सरकार से मदद की गुहार लगाई है

डबडबाई आंखों से दादी जानकी देवी कहती हैं कि अब उनके परिवार की जान सरकार ही बचा सकती है. कम से कम दोनों पोतों का इलाज सरकार करा दे.

    बोकारो. थैलीसीमिया (Thalassemia) पीड़ित परिवार को मदद की जरूरत है. खासकर परिवार के उन दो बच्चों को, जिन्हें हर महीने खून (Blood) चढ़ाना पड़ता है. आर्थिक परेशानी के चलते अब यह परिवार टूटता जा रहा है. डबडबाई आंखों से बूढ़ी दादी अपने पोतों के लिए जिंदगी की भीख सरकार (Hemant Government) से मांग रही है. अरविंद मिश्रा का पूरा परिवार माराफारी स्थित कैंप वन झोपड़पट्टी में रहता है. अरविंद मिश्रा के अलावा पत्नी सुलेखा मिश्रा और दो पुत्र अक्षय और आनंद थैलीसीमिया से पीड़ित हैं. चार वर्ष से पीड़ित परिवार सरकारी मदद की आस में नेताओं और अधिकारियों के चक्कर लगा रहा है.

    कुछ स्थानीय लोगों से मिलती है मदद 

    अरविंद मिश्रा बताते हैं कि बोकारो के कुछ लोगों के सहयोग से उन्हें ब्लड मिलता है. और वह अपने बच्चों को चढ़वाते हैं. खून देने और चढ़ाने में रेडक्रास सोसायटी और अन्य निजी अस्पताल भी उनकी मदद करते हैं. हालांकि चार लोगों के इलाज में काफी खर्च हो रहा है. इस वजह से परिवार की माली हालत बेहद खराब हो गई.

    सरकार से इलाज के लिए गुहार 

    डबडबाई आंखों से दादी जानकी देवी कहती हैं कि अब उनके परिवार की जान सरकार ही बचा सकती है. कम से कम दोनों पोतों का इलाज सरकार करा दे. मां सुलेखा मिश्रा का कहना है कि नई हेमंत सरकार से काफी उम्मीद है. सरकार को उनके परिवार के लिए कुछ करना चाहिए.

    रिपोर्ट- ज्ञानेंदू

    ये भी पढ़ें- रांची के मोरहाबादी में बीजेपी नेता की हत्या, टेरर फंडिंग मामले में था आरोपी 

    Tags: Bokaro news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर