लाइव टीवी

डायरिया से पीड़ित एक ही जगह के 10 लोग डीवीसी अस्पताल में भर्ती

Gyanendu Jaipuriar | News18 Jharkhand
Updated: July 28, 2018, 1:02 PM IST
डायरिया से पीड़ित एक ही जगह के 10 लोग डीवीसी अस्पताल में भर्ती
डॉ. देवाशीष दास, डीवीसी अस्पताल

डीवीसी अस्पताल के चिकित्सक भी मान रहे हैं कि अस्पताल में भर्ती हुए लोगों के लक्ष्ण डायरिया के ही लग रहे हैं. ऐसे में गांव जाकर इलाज करने की जरूरत हैं.

  • Share this:
बोकारो जिला के नावाडीह प्रखंड के नक्सल प्रभावित क्षेत्र उपरघाट के काछो पंचायत अंतर्गत खोड़ाबांध टोला में कई लोग डायरिया से पीड़ित हैं. अगर समय रहते प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग शिविर लगाकर डायरिया पीड़ित मरीजों का इलाज नहीं करता है तो परिस्थितियां गंभीर हो जा सकती हैं. गांव में फैले इस डायरिया का खुलासा तब हुआ जब डायरिया से पीड़ित एक दर्जन से अधिक मरीज बच्चे, महिलाएं व पुरुष डीवीसी बोकारो थर्मल अस्पताल में भर्ती हुए.

डीवीसी अस्पताल के चिकित्सक भी मान रहे हैं कि अस्पताल में भर्ती हुए लोगों के लक्ष्ण डायरिया के ही लग रहे हैं. ऐसे में गांव जाकर इलाज करने की जरूरत हैं. पिछले तीन दिन के अदंर लगभग एक दर्जन से अधिक मरीज अस्पताल पहुंचकर अपना इलाज करवा रहे हैं. डीवीसी अस्पताल पहुंचे मरीजों को चिकित्सकों की ओर से गांव में गर्म पानी और गर्म खाना के साथ साफ सफाई का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी जा रही है.

डीवीसी अस्पताल के चिकित्सक डॉ. देवाशीष दास ने कहा कि पिछले 72 घंटों में 10 से 12 डायरिया से संबंधित मामले आए हैं. डायरिया से पीड़ित ये सभी लोग एक ही जगह से आए हैं. उन्होंने कहा कि बारिश के मौसम में पानी बदलने से ऐसा हो सकता है.

अस्पताल में भर्ती हुई 60 वर्षीय मरीज मुंदरी देवी, 3 वर्षीय ममता कुमारी, 40 वर्षीय चंपा देवी, 25 वर्षीय चिंता देवी, 4 वर्षीय बच्ची पूनम कुमारी, 6 वर्षीय शोभा कुमारी, 12 वर्षीय प्रियंका कुमारी और 40 वर्षीय बिलासो देवी समेत अन्य भर्ती मरीजों का इलाज किया जा रहा है. मरीज के परिजन कह रहे हैं कि यह डायरिया का ही प्रकोप है. ऐसे में अगर समय रहते यहां चिकित्सा उपलब्ध नहीं कराई गई तब शायद मरीजों की संख्या और बढ़ सकती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बोकारो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 28, 2018, 12:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...