लाइव टीवी

पहले पर्ची पर लिखा था कंडोम, अब पेट दर्द का इलाज कराने आए युवकों को डॉक्टर ने लिखा प्रेग्नेंसी टेस्ट

News18 Jharkhand
Updated: October 14, 2019, 3:39 PM IST
पहले पर्ची पर लिखा था कंडोम, अब पेट दर्द का इलाज कराने आए युवकों को डॉक्टर ने लिखा प्रेग्नेंसी टेस्ट
डॉक्टर मुकेश कुमार का कहना है कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं है. दोनों युवक अपनी पत्नी के साथ अस्पताल पहुंचे थे. गलती से पत्नी के बदले अपना नाम पर्ची पर डलवा दिया.

सिमरिया प्रखंड के चोरबारा गांव के रहने वाले कामेश्वर गंझू और गोपाल गंझू पेट दर्द (Abdominal Pain) की शिकायत पर सिमरिया रेफरल अस्पताल (Simaria Referral Hospital) पहुंचे थे. उनके मुताबिक उसी दिन डॉक्टर मुकेश ने उन्हें देखने के बाद पर्ची पर प्रेग्नेंसी टेस्ट (Pregnancy Test) की सलाह लिखी.

  • Share this:
चतरा. झारखंड (Jharkhand) में चतरा जिले के सिमरिया रेफरल अस्पताल (Simaria Referral Hospital) से अनोखा मामला सामने आया है. पेट दर्द (Abdominal Pain) का इलाज कराने आए दो युवकों (Youths) को डॉक्टर (Doctor) ने प्रेग्नेंसी टेस्ट (Pregnancy Test) की सलाह लिख दी. परामर्श पर्ची पर एंटी नेटल चेकअप (एएनसी) कराने की सलाह दी गई है. बता दें, डॉक्टर द्वारा पर्ची पर इस तरह की अजीब सलाह लिखने का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले घाटशिला में डॉक्‍टर अशरफ बदर के पास एक महिला पेट दर्द की शिकायत लेकर आई थी. डॉक्टर ने महिला की प्रिस्क्रिप्‍शन स्लिप में 'कंडोम' लिख दिया था. इसका शोर विधानसभा (Assembly) में भी गूंजा था. आखिरकार डॉक्टर को नौकरी से हाथ धोना पड़ा था.

मिली जानकारी के मुताबिक, इसके अलावा दोनों की पर्ची पर एचआईवी, एचबीए, सीबीसी और हिमोग्लोबिन जांच कराने की भी बात लिखी गई है. जब दोनों युवक निजी पैथोलॉजी सेंटर (Pathology center) में जांच कराने गए तो पैथोलॉजिस्ट पर्ची देखकर अवाक रह गये. पैथोलॉजिस्ट ने युवकों को बताया कि डॉक्टर ने प्रेग्नेंसी टेस्ट की जांच लिखी है. जिसके बाद पूरा मामला सामने आया.

डॉक्टर ने दी सफाई 
इस सिलसिले में संबंधित डॉक्टर मुकेश कुमार का कहना है कि कहीं कोई गड़बड़ी नहीं है. दोनों युवक अपनी पत्नी के साथ अस्पताल पहुंचे थे. गलती से पत्नी के बदले दोनों ने अपना नाम पर्ची पर लिखवा दिया. हमने देखा भी सही है और जांच भी सही लिखी है. दोनों की पत्नियां प्रेग्नेंट हैं. अस्पताल के रिकॉर्ड में ये बात दर्ज है.

मामले की जांच का आदेश 
यह मामला बीते एक अक्टूबर का है. सिमरिया प्रखंड के चोरबारा गांव के रहने वाले कामेश्वर गंझू और गोपाल गंझू पेट दर्द की शिकायत पर सिमरिया रेफरल अस्पताल पहुंचे थे. उनके मुताबिक, उसी दिन डॉक्टर मुकेश ने उन्हें देखने के बाद पर्ची पर प्रेग्नेंसी टेस्ट की सलाह लिखी. यह मामला सामने आने के बाद जिले के सिविल सर्जन अरुण कुमार पासवान ने अस्पताल प्रभारी को जांच का आदेश दिया है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी. हालांकि रेफरल अस्पताल के प्रभारी डॉ. भूषण राणा का कहना है कि पर्ची में ओवर राइटिंग होने की बात सामने आई है. ऐसे में जांच के बाद ही कुछ ठोस कहा जा सकता है.

इनपुट- संतोष कुमार
Loading...

ये भी पढ़ें- झारखंड पुलिस को मिले 2504 नये दारोगा, सीएम ने दी ईमानदार बनने की नसीहत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चतरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 3:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...