अपना शहर चुनें

States

चतरा: पहले पिता अब बेटे को नक्सलियों ने सरे बाजार गोलियों से भूना, विरोध में NH-100 जाम

युवक की हत्या के विरोध में ग्रामीणों ने एनएच-100 जाम कर दिया
युवक की हत्या के विरोध में ग्रामीणों ने एनएच-100 जाम कर दिया

नक्सलियों (Naxal) द्वारा सरेआम युवक की हत्या (Murder) के बाद पीरी बाजार में अफरा-तफरी मच गई. लोग अपना सामान छोड़कर इधर-उधर भागने लगे.

  • Share this:
रिपोर्ट- सूर्यकांत 

चतरा. प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के उग्रवादियों ने एक बार फिर झारखंड के सीमाई इलाके में बड़ी दस्तक दी है. चतरा जिले में सिमरिया थानाक्षेत्र स्थित पीरी बाजार में रविवार को नक्सलियों (Naxal) ने दिनदहाड़े एक युवक की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. मृतक परमेश्वर साव पीरी गांव का ही रहने वाला था. पूर्व में उसके पिता की भी माओवादियों ने पुलिस मुखबिर होने के शक में हत्या कर दी थी.

नक्सलियों द्वारा सरेआम युवक की हत्या के बाद बाजार में अफरा-तफरी मच गई. लोग अपना सामान छोड़कर इधर-उधर भागने लगे. पीरी में संडे बाजार लगा हुआ था, जहां माओवादियों ने घटना को अंजाम दिया. घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.




सिमरिया एसडीपीओ वचन देव कुजुर ने युवक की हत्या की पुष्टि की है, लेकिन घटना में माओवादियों का हाथ होने से फिलहाल इनकार किया है. इस बीच घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने सिमरिया-हजारीबाग मुख्यपथ एनएच-100 को पिरी में जाम कर दिया है. ग्रामीण जिला प्रशासन के बड़े अधिकारियों को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे हैं. ग्रामीणों के प्रदर्शन की वजह से एनएच पर वाहनों की लंबी कतार लग गई है. ग्रामीणों के मुताबिक पूर्व में मृतक के पिता की भी माओवादियों ने हत्या कर दी थी. पुलिस मुखबिर होने के शक पर पिता को मार डाला गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज