होमवर्क नहीं करने पर टीचर ने दी ऐसी सजा, मासूम के नाक और मुंह से निकलने लगा खून

तरा जिले में शिक्षिका द्वारा मासूम को पीटने का मामला सामने आया है. आरोप है कि तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले छात्र मंझगावां निवासी राजकुमार सिंह की छोटी सी गलती पर शिक्षिका ने मासूम को 300 बार उठक बैठक कराया.

News18 Jharkhand
Updated: July 28, 2019, 7:33 AM IST
होमवर्क नहीं करने पर टीचर ने दी ऐसी सजा, मासूम के नाक और मुंह से निकलने लगा खून
चतरा में शिक्षिका ने सजा के तौर मासूम बच्चे से कराए 300 बार उठक-बैठक(सांकेतिक तस्वीर)
News18 Jharkhand
Updated: July 28, 2019, 7:33 AM IST
झारखंड के चतरा जिले में शिक्षिका द्वारा मासूम को पीटने का मामला सामने आया है. आरोप है कि तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले छात्र मंझगावां निवासी राजकुमार सिंह की छोटी सी गलती पर शिक्षिका ने मासूम को 300 बार उठक बैठक कराई. ये सजा राजकुमार पर इतनी भारी पड़ गई कि उसे अस्पताल ले जाना पड़ा. मामला इटखोरी थाना क्षेत्र के परोका गांव में संचालित साईं इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल का है.

300 बार उठक बैठक करने का सुनाया फरमान
जानकारी के मुताबिक, छात्र राजकुमार को होमवर्क दिया गया था. जिसे वह पूरा नहीं कर सका और मार खाने के डर से संबंधित विषय का किताब लेकर विद्यालय नहीं आया था. इसी बात पर शिक्षिका अंजली ने राजकुमार को 300 बार उठक बैठक करने का फरमान सुनाया. उठक बैठक करते-करते राजकुमार अपने दाएं पैर में दर्द की शिकायत करने लगा. बावजूद शिक्षिका का कलेजा नहीं पसीजा.

चतरा में शिक्षिका ने सजा के तौर मासूम बच्चे से कराए 300 बार उठक-बैठक
चतरा में शिक्षिका ने सजा के तौर मासूम बच्चे से कराए 300 बार उठक-बैठक


मासूम के मुंह और नाक से  निकला खून 
शिक्षिका के फरमान को पूरा करते-करते मासूम के मुंह और नाक से खून निकलने लगा. मामले की खबर एक बस चालक ने चुपके से परिजनों को दी. जिसके बाद वे आनन-फानन में विद्यालय पहुंचे. परिजनों ने राजकुमार को स्वास्थ्य उपकेंद्र पहुंचाया. जहां चिकित्सक ने बच्चे का इलाज किया. चिकित्सक ने बताया कि बच्चा काफी घबराया हुआ है.

सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो
Loading...

वहीं, मासूम बच्चे का दर्द बयां करता वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया. जिसके बाद लगभग मामले को रफा-दफा कर चुके स्कूल प्रबंधक की पोल खुल गई. वीडियो में बच्चे की दर्द भरी कहानी सुनकर हर किसी का कलेजा कांप उठा. इस पूरे मामले में स्कूल प्रबंधन की तरफ से कोई सफाई नहीं दी गई. मासूम बच्चे के परिजनों को भी डराया धमकाया गया है. वह भी इस मामले में कुछ भी कहने से कतरा रहे हैं.

यह भी पढ़ें- शराबी टीचर ने छात्र का हाथ तोड़ा, अभिभावकों में रोष
First published: July 28, 2019, 6:15 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...