Home /News /jharkhand /

देवघर: कस्टम अधिकारी बनकर लोगों को चूना लगाने वाले 10 साइबर अपराधी गिरफ्तार

देवघर: कस्टम अधिकारी बनकर लोगों को चूना लगाने वाले 10 साइबर अपराधी गिरफ्तार

गिरफ्तार साइबर अपराधियों में से दो का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है.

गिरफ्तार साइबर अपराधियों में से दो का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है.

Cyber Crime: गिरफ्तार साइबर अपराधी फोन पर खुद को कस्टम अधिकारी बताकर ठगी करते थे. साथ ही ड्रीम 11, रम्मी और तीन पत्ती गेम के माध्यम से ठगते थे. वर्चुअल पेमेंट एड्रेस के माध्यम से भी लोगों को चूना लगाया जाता था.

    रिपोर्ट- मनीष दुबे

    देवघर. बाबा नगरी देवघर में साइबर अपराध (Cyber Crime) थमने का नाम नहीं ले रहा है. पुलिस की छापेमारी के बाबजूद यह सिलसिला जारी है. पुलिस ने गुरुवार को जिले के चार थाना क्षेत्रों में छापेमारी कर 10 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया.

    साइबर थाने में प्रेस वार्ता कर साइबर डीएसपी सुमित प्रसाद ने कहा कि देवघर जिले के कुंडा, पथरोल, जसीडीह और मधुपुर थाना क्षेत्र में देवघर एसपी के निर्देश पर छापेमारी अभियान चलाया गया. और 10 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार साइबर अपराधियों के पास से 11 मोबाइल फोन, 20 सिम कार्ड, दो एटीएम कार्ड बरामद किए गए हैं. गिरफ्तार अपराधियों में तरुण दास, विकास दास, संजीत दास, अमित कुमार, धनंजय दास, संदीप दास, निरंजन दास, रंजीत दास, अंकित दास और उमेश दास शामिल हैं.

    डीएसपी ने बताया कि इन साइबर अपराधियों में से दो धनंजय दास और विकास दास का पुराना आपराधिक इतिहास साइबर मामले में रहा है. ये सभी फर्जी सिम के आधार पर फर्जी बैंक अधिकारी और कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव बनकर विभिन्न माध्यमों से ओटीपी हासिल कर ठगी की घटना को अंजाम दे रहे थे. इसके अलावा पे फोन और पेटीएम जैसे मनी ट्रांसफर ऐप का इस्तेमाल कर भी लोगों को झांसे में लेकर अपराध किया जा रहा था.

    डीएसपी ने यह भी जानकारी दी कि इन साइबर अपराधियों द्वारा साइबर ठगी की घटना को अंजाम देने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपनाए जाते थे. साइबर अपराधी फोन पर कस्टम अधिकारी बनकर ठगी करते हैं. इसके साथ ही ड्रीम 11, रम्मी और तीन पत्ती गेम के माध्यम से ठगी करते हैं. साइबर अपराधियों द्वारा वर्चुअल पेमेंट एड्रेस के माध्यम से भी ठगी की जाती थी. फिलहाल साइबर थाना पुलिस गिरफ्तार अपराधियों से मिले इनपुट के आधार पर छापेमारी में जुट गई है.

    Tags: Cyber Crime, Deoghar news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर