देवघर: पुलिस की छापेमारी में 215 बोरा प्रतिबंधित गुटका और जर्दा बरामद, लाखों में है कीमत

देवघर पुलिस ने प्रतिबंधित गुटका और तंबाकू को लेकर अभियान चला रखा है.
देवघर पुलिस ने प्रतिबंधित गुटका और तंबाकू को लेकर अभियान चला रखा है.

झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High court) ने हाल में प्रतिबंध के बावजूद राज्य में गुटका और तंबाकू पदार्थों की बिक्री पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी. इसको देखते हुए देवघर पुलिस ने सर्च अभियान चला रखा है.

  • Share this:
देवघर. पुलिस ने खागा थाना अंतर्गत चार अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर 215 बोरा प्रतिबंधित पान मसाला और जर्दा जब्त किया. बाजार में इसकी कीमत लाखों में बताई जा रही है. इस संबंध में एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया. देवघर एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा को मिली गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की गई. गौरतलब है कि कोविड-19 (Covid-19) के कारण राज्य में गुटका और तंबाकू की बिक्री व सेवन पर पूर्ण प्रतिबंध है.

झारखंड हाईकोर्ट ने हाल में प्रतिबंध के बावजूद राज्य में गुटका और तंबाकू पदार्थों की बिक्री पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी. इसको देखते हुए देवघर पुलिस ने सर्च अभियान चलाया था. छापेमारी में अनुज मंडल के घर से 70 बोरा, पवन मंडल के घर से 68 बोरा, विनोद मंडल के गोदाम से 70 बोरा और उत्पल मंडल के घर से 7 बोरा गुटका एवं जर्दा बरामद किया गया. पुलिस ने उत्पल मंडल को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

बता दें कि क‌ोविड-19 के मद्देनजर राज्य सरकार द्वारा गुटखा एवं तंबाकू पदार्थ के बिक्री और सेवन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है. इसके विरुद्ध कार्य करने वालों के खिलाफ झारखंड आपदा प्रबंधन नियमावली-2005 एवं आइपीसी के सुसंगत धाराओं के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है.



बता दें कि एक सप्ताह पहले स्वास्थ्य विभाग की ओर से गठित टीम ने देवघर के पालोजोरी मुख्य बाजार में कई राशन दुकानों में छापेमारी की थी. इस दौरान कई दुकानों से पान मसाला व गुटखा जब्त किया गया. बाद में दुकानदारों से फाइन वसूल कर उन्हें हिदायत दी गई कि दोबारा दुकान में तंबाकू, गुटका या पान मसाला बरामद हुआ तो नियम संगत कार्रवाई होगी. लेकिन प्रशासन की इस चेतावनी का असर होता दिख नहीं रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज