Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बाबा धाम मंदिर का दरवाजा सभी के लिए खुला, E-Pass पर रोजाना 1000 भक्त कर पाएंगे दर्शन

    बाबा धाम मंदिर का गर्भगृह
    बाबा धाम मंदिर का गर्भगृह

    देवघर उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि अब 200 श्रद्धालु की जगह प्रतिदिन एक हज़ार लोगों को दर्शन और पूजा की सुविधा उपलब्ध होगी. साथ ही झारखंड के अलावा दूसरे राज्यों के श्रद्धालुओं को भी बाबा मंदिर (Baidyanath Temple) में दर्शन और पूजा की अनुमति दी गई है.

    • Share this:
    देवघर. झारखंड में गत 8 अक्टूबर से सभी धार्मिकस्थलों को श्रद्धालुओं के लिए खोल दिये गये हैं. सरकार के इस निर्णय के बाद से देवघर के बाबा मंदिर (Baidyanath Temple) को भी पूर्ण रूप से खोले जाने की मांग की जा रही थी. इसको लेकर कुछ स्थानीय लोगों द्वारा दबाब भी बनाया जा रहा था. सभी परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने अब मंदिर में दर्शन की अवधि बढ़ा दी है. अब सुबह 6 बजे से दिन के 2 बजे तक मंदिर के पट आम श्रद्धालुओं के लिए खुले रहेंगे.

    रोजाना 1000 लोग कर पाएंगे दर्शन

    देवघर के उपायुक्त सह बाबा मंदिर प्रशासक कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि अब 200 श्रद्धालु की जगह प्रतिदिन एक हज़ार लोगों को दर्शन और पूजा की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. अब झारखंड के अलावा दूसरे राज्यों के श्रद्धालुओं को भी दर्शन और पूजा की अनुमति दी गई है. लेकिन मंदिर में प्रवेश के लिए ई-पास लेना जरूरी होगा. उपायुक्त ने स्पष्ट किया कि कोरोना को लेकर जारी गाइडलाइन के तहत स्पर्श पूजा की अनुमति नहीं दी गई है.



    पहले सिर्फ झारखंडियों को थी पूजा-पाठ की अनुमति 
    इससे पहले 27 अगस्त से बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर झारखंडवासियों के लिए खोल दिया गया था. उम्मीद की जा रही थी कि इससे मंदिर पर आश्रितों की आर्थिक स्थिति सुधरेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. गत 8 अक्टूबर को राज्य के सभी धार्मिक स्थलों को खोलने का निर्णय सरकार द्वारा लिया गया. इस निर्णय का देवघर में तीर्थ पुरोहित, दुकानदार सहित आम लोगों ने स्वागत किया. लेकिन सरकार ने पूर्व की भांति बाबा मंदिर में रोजाना मात्र 200 भक्तों को ही पूजा की अनुमति बरकरार रखा. इससे स्थानीय तीर्थ पुरोहित सहित मंदिर पर आश्रित लोगों में काफी नाराजगी देखी गई. इनके विरोध को देखते हुए प्रशासन को मंदिर के द्वार सभी भक्तों के लिए खोलने पड़े.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज