Home /News /jharkhand /

गैर झारखंड नियोजन नीति को बदलने के लिए कांग्रेस ने निकाली युवा अधिकार यात्रा

गैर झारखंड नियोजन नीति को बदलने के लिए कांग्रेस ने निकाली युवा अधिकार यात्रा

गैर झारखंड नियोजन नीति को बदलने के लिए कांग्रेस ने युवाओं को भी जोड़ा

गैर झारखंड नियोजन नीति को बदलने के लिए कांग्रेस ने युवाओं को भी जोड़ा

झारखंड के गोड्डा जिले में कांग्रेस द्वारा राज्य के युवाओं को पार्टी से जोड़ने को लेकर निकाली गई युवा अधिकार रथ मंगलवार को गोड्डा पहुंची.

झारखंड के गोड्डा जिले में कांग्रेस द्वारा राज्य के युवाओं को जोड़ने को लेकर निकाली गई युवा अधिकार रथ मंगलवार को गोड्डा पहुंची. इस दौरान गोड्डा कांग्रेस कार्यालय में एक आयोजित सभा में प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अलमगीर आलम और के. एन. त्रिपाठी भी पहुंचे.

वहीं सभा के बाद प्रेस वार्ता करते हुए नेताओं ने अपनी अपनी बातों को रखा. इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. एन. त्रिपाठी ने बताया कि इस युवा अधिकार यात्रा का उद्देश्य सूबे की सरकार के खिलाफ युवाओं को एक मंच पर लाना है. उन्होंने कहा कि सूबे की सरकार ने जिस तरह से गैर झारखंड नियोजन नीति में राज्य को दो भागों में बांटा है, उससे 11 जिलों में यहां के स्थानीय युवाओं को नौकरियां नहीं मिलने वाली हैं.

के. एन. त्रिपाठी ने कहा कि वो पिछले 1 साल से झारखंड सरकार को इस नीति को बदलने के लिए कहा जा रहा है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जानबूझकर सूबे के नवयुवकों से रोजगार छीन रही है. इसी को लेकर पूरे राज्य के नवयुवकों से आह्वान करने के लिए यह यात्रा निकाली गई है. ताकि नवयुवक अपने घरों से निकलकर इस नीति को बदलने के लिए सरकार पर दबाव बना सकें.

वहीं कांग्रेस नेता अलमगीर आलम ने रघुवर सरकार को विज्ञापन की सरकार बताते हुए कहा कि इनके कथनी और करनी में काफी फर्क है. उन्होंने कहा कि बीजेपी सिर्फ लोगों को लड़ाना जानती है. कभी सीएनटी एसपीटी एक्ट के नाम पर, तो कभी भूमि अधिग्रहण विधेयक 2013 बिल के संशोधन के नाम पर लोगों को आपस में लड़ाती है.

Tags: Jharkhand Congress, Youth congress

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर