Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अच्‍छी खबर: फरवरी 2022 से शुरू हो जाएगा देवघर AIIMS, जल्द चालू होगी OPD सेवा

    देवघर में 1100 करोड़ की लागत से एम्स का निर्माण जारी है.
    देवघर में 1100 करोड़ की लागत से एम्स का निर्माण जारी है.

    देवघर के देवीपुर में एम्स (Deoghar AIIMS) का निर्माणकार्य तेजी से चल रहा है. जल्द ही यहां ओपीडी की सेवा शुरू कर दी जाएगी और फरवरी 2022 तक एम्स पूरी तरह कार्य करना शुरू कर देगा.

    • Share this:
    देवघर. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे (Ashwani Chaubey) ने देवघर के देवीपुर में एम्स (AIIMS) के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया. केंद्रीय मंत्री को एम्स प्रबंधन की ओर से व्यवस्था से संबंधित एक प्रजेंटेशन भी दिखाया गया. जिसके बाद अभी तक की प्रगति पर मंत्री ने संतोष व्यक्त किया. स्थल निरीक्षण के बाद मंत्री ने कहा कि इसी वर्ष देवघर एम्स में ओपीडी की सेवा शुरू कर दी जाएगी और फरवरी 2022 तक एम्स पूरी तरह कार्य करना शुरू कर देगा.

    फिलहाल देवघर शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के लिए एम्स द्वारा ओपीडी सेवा की व्यवस्था की जा रही है. शहरी क्षेत्र के लिए देवघर पुराना सदर अस्पताल परिसर और ग्रामीण क्षेत्र के लिए देवीपुर सीएचसी का चयन किया गया है.

    केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह प्रधानमंत्री की महत्वाकांक्षी योजना है. पूरे देश में इस तरह की 22 एम्स के निर्माण की योजना है. देवघर एम्स के निर्माण से न केवल झारखंड बल्कि पड़ोसी राज्य के लोगों को चिकित्सा सुविधा का लाभ मिलेगा.



    246 एकड़ में बना रहा एम्स भवन 
    बता दें कि देवघर एम्स को झारखंड ही नहीं ईस्टर्न इंडिया का आधुनिकतम सुविधा सम्पन्न सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल बनाने की तैयारी है. 246 एकड़ क्षेत्र में लगभग 1103 करोड़ की लागत से एम्स का निर्माण काफी तेजी से चल रहा है. शासकीय भवन 760 बेड का हॉस्पिटल, नर्सिंग कॉलेज, इमरजेंसी वार्ड और 76 आईसीयू बेड का निर्माण प्राथमिकता के आधार पर किया जा रहा है. यहां एमबीबीएस के साथ नर्सिंग की भी पढ़ाई होगी.

    खास बात ये है कि इस क्षेत्र की कुछ खास बीमारियों पर शोध के लिए भी यहां एक स्वतंत्र प्रभाग प्रस्तावित है. एमबीबीएस की पढ़ाई पिछले वर्ष से यहां जारी है. हॉस्पिटल बिल्डिंग, एकेडमिक बिल्डिंग के अलावा 22 तल्ले का ऑफिसर्स क्वार्टर और 16 तल्ले का छात्रों का हॉस्टल बनाया जा रहा है. 22 तल्ले का यह भवन झारखंड का सबसे ऊंची मल्टी स्टोरी बिल्डिंग होगा.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज