लाइव टीवी

रिश्तेदार ने साजिश रचकर करवाई 5 लाख की लूट, 12 घंटे में पुलिस ने किया पर्दाफाश
Deoghar News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: February 14, 2020, 6:52 PM IST
रिश्तेदार ने साजिश रचकर करवाई 5 लाख की लूट, 12 घंटे में पुलिस ने किया पर्दाफाश
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी विजय यादव

पुलिस के मुताबिक रास्ते में पेशाब करने के बहाने आरोपी विजय यादव ने कार रुकवाई. इसी दौरान बाइक पर बदमाश वहां आ धमके. और पांच लाख रुपये लूटकर फरार हो गये.

  • Share this:
देवघर. पांच लाख की लूट (Loot) के मामले में देवघर पुलिस (Deoghar Police) ने 12 घंटे के अंदर पर्दाफाश करने का दावा किया है. पुलिस के मुताबिक इस लूट का मास्टर माइंड कोई और नहीं, बल्कि पीड़ित का रिश्तेदार है. पुलिस ने आरोपी विजय यादव को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया. पुलिस की माने तो विजय यादव ने साजिश रचकर घटना को अंजाम दिलवाया. लूट के ढाई लाख रुपये बरामद कर लिये गये.

एसडीपीओ विकास चन्द्र श्रीवास्तव ने कहा कि पूछताछ में आरोपी विजय यादव ने लूट में शामिल तीन लोगों का नाम बताया. उनमें से एक के घर से पुलिस ने 2 लाख 54 हजार बरामद किया. साथ ही लूट में इस्तेमाल बाइक भी पुलिस ने बरामद की है. तीनों की गिरफ्तार के लिए छापेमारी चल रही है.

पेशाब के बहाने रुकवाई कार 

गुरुवार को दे‌वघर स्थित बंधन बैंक की शाखा से जगदीशपुर निवासी सरयू महतो पांच लाख रुपये निकालकर कार से घर लौट रहे थे. उनके साथ आरोपी विजय यादव भी था. पुलिस के मुताबिक रास्ते में पेशाब करने के बहाने विजय यादव ने कार रुकवाई. इसी दौरान बाइक पर बदमाश वहां आ धमके. और पांच लाख रुपये लूटकर फरार हो गये.



पूछताछ में पुलिस के सामने उगले राज 

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन शुरू की. पहली शक की सुई विजय यादव पर गई. पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जब कड़ाई से पूछताछ की, तो सच्चाई सामने आ गई. पुलिस ने रातभर अन्य तीन आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की. लेकिन उन्हें दबोचने में सफलता नहीं मिल पाई.

इनपुट- मनीष राज

ये भी पढ़ें- स्ट्रॉबेरी की खेती कर किस्मत 'लाल' कर रहे यहां के किसान, कोलकाता-पटना तक होती है सप्लाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देवघर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2020, 6:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर