देवघर के घरेलू उत्पादों को मिलेगा ग्लोबल मार्केट, ऑनलाइन प्लेटफार्म देवघर मार्ट लॉन्च करने की तैयारी

देवघर का पेड़ा महाप्रसाद के रूप में विश्व प्रसिद्ध है.

Deoghar News: जिला प्रशासन देवघर मार्ट के जरिए देवघर में बने सामानों को ऑनलाइन बाजार देने में जुटा है. इनमें से एक पेड़ा भी है.

  • Share this:
    रिपोर्ट- मनीष दुबे

    देवघर. जिले के उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री ने लघु एवं कुटीर उद्योग, पेड़ा व्यवसाय की जीआई टैगिंग (Geographical Indicator Tags) की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने कहा कि इस कार्य को शीघ्र पूरा किया जाएगा. ताकि बाबाधाम के पेड़े को जीआई टैग से जोड़ा जा सके. जल्द ही ऑनलाइन प्लेटफार्म के रूप में देवघर मार्ट को विकसित किया जाएगा. इसमें जिले के लघु एवं कुटीर उद्योग, पेड़ा उद्योग, लोहारगिरी, मिट्टी के बर्तन निर्माण, सिलाई-कढ़ाई, बंबू उद्योग, लाह चूड़ी व लहठी आदि को सूचीबद्ध किया जाएगा.

    बाबा नगरी देवघर का पेड़ा विश्व प्रसिद्ध है. महाप्रसाद के रूप में लोग इसको ग्रहण करते हैं. जिला प्रशासन की इस पहल के बाद पेड़ा व्यवसाय में भी खुशी का माहौल है. इनका कहना है कि कोरोना लॉकडाउन के चलते उनके बिजनेस को काफी नुकसान हुआ था. लेकिन अब पेड़े की ऑनलाइन बिक्री शुरू होने पर उन्हें बड़ी राहत मिलेगी. बाबाधाम का पेड़ा महाप्रसाद के रूप में श्रद्धालु खरीदते हैं. ऐसे में ऑनलाइन बिक्री से उनके बिजनेस को बड़ा बाजार मिलेगा.

    बता दें कि जिला प्रशासन देवघर मार्ट के जरिए देवघर में बने सामानों को ऑनलाइन बाजार देने में जुटा है. इनमें से एक पेड़ा भी है. पेड़े की ऑनलाइन बिक्री शुरू हो जाने पर श्रद्धालु इसे आसानी से अपने घर मंगा सकेंगे.

    600 से ज्यादा भारतीय उत्पादों को जीआई टैग मिला
    किसी क्षेत्र विशेष के उत्पादों को जीअग्रैफिकल इंडिकेशन टैग (जीआई टैग) से खास पहचान मिलती है. चंदेरी की साड़ी, कांजीवरम की साड़ी, दार्जिलिंग चाय महाबलेश्वर स्ट्रॉबेरी, जयपुर ब्लू पोटरी, बनारसी साड़ी, तिरुपति के लड्डू, मध्य प्रदेश के झाबुआ के कड़कनाथ मुर्गा और मलिहाबादी आम समेत अब तक करीब 600 से ज्यादा भारतीय उत्पादों को जीआई टैग मिल चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.