• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • देवघर श्रावणी मेला: शीघ्र दर्शनम और डाक बम सेवा में नहीं होगा बदलाव

देवघर श्रावणी मेला: शीघ्र दर्शनम और डाक बम सेवा में नहीं होगा बदलाव

श्रावणी मेले को देखते हुए देवघर परिसदन में बिहार और झारखंड के पदाधिकारियोंं के बीच बैठक हुई. इसमें श्रद्धालुओं की सुविधाओं के मद्देनजर कई फैसले लिये गये.

श्रावणी मेले को देखते हुए देवघर परिसदन में बिहार और झारखंड के पदाधिकारियोंं के बीच बैठक हुई. इसमें श्रद्धालुओं की सुविधाओं के मद्देनजर कई फैसले लिये गये.

श्रावणी मेले को देखते हुए देवघर परिसदन में बिहार और झारखंड के पदाधिकारियोंं के बीच बैठक हुई. इसमें श्रद्धालुओं की सुविधाओं के मद्देनजर कई फैसले लिये गये.

  • Share this:
    विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले को लेकर देवघर में तैयारियां जोरों पर हैं. 17 जुलाई से यह मेला शुरू होने वाला है. इस दौरान देश- विदेश के लाखों श्रद्धालुओं के देवघर आने की संभावना है. इसको देखते हुए देवघर परिसदन में बिहार और झारखंड के पदाधिकारियोंं के बीच बैठक हुई. इसमें श्रद्धालुओं की सुविधाओं के मद्देनजर कई फैसले लिये गये.

    श्रद्धालुओं को मिलेगी बेहतर सुविधा

    बैठक में संताल परगना के आयुक्त के अलावा भागलपुर और मुंगेर के आयुक्त, दोनों जिलों के जिलाधिकारी एवं एसपी, जमुई और बांका के डीएम और एसपी, देवघर और दुमका के उपायुक्त और एसपी शामिल हुए. बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए संताल परगना के आयुक्त विमल ने बताया कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष देवघर आने वाले श्रद्धालुओं को और बेहतर सेवा देने का निर्णय लिया गया है. आयुक्त ने बताया कि दोनों राज्य के अधिकारियों द्वारा सूचना का आदान-प्रदान कर मेला का संचालन किया जाएगा.

    शीघ्र दर्शनम और डाक बम में बदलाव नहीं 

    आयुक्त ने कहा कि शीघ्र दर्शनम और डाक बम को दी जाने वाली सुविधाएं पूर्ववत रहेंगी. बांग्ला सावन के साथ श्रावणी मेले की शुरुआत होने के कारण इस बार भक्तों की भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है. मेला क्षेत्र में मांस और मदिरा की बिक्री पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा. प्रत्येक वर्ष दोनों राज्यों के बीच तालमेल की कमी के कारण डाक बम को लेकर जो अव्यवस्था होती है, उसे इस बार पूरी तरह दूर किया जाएगा.

    कांवरिया पथ पर होगी हर तरह की व्यवस्था

    भागलपुर की आयुक्त बंदना किन्नी ने बताया कि इस बार रविवार और सोमवार को सुल्तानगंज से ही डाक बम को नियंत्रित करने का निर्णय लिया गया है. बिहार में पड़ने वाले कांवरियां पथ पर श्रद्धालुओं के लिए खान-पान सहित स्वास्थ्य, चिकित्सा और अन्य सारी सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी. संताल परगना प्रक्षेत्र के डीआईजी राज कुमार लकड़ा ने बताया कि मेले की सुरक्षा के लिए पर्याप्त संख्या में पुलिस पदाधिकारी और जवानों को तैनात किया जाएगा.

    रिपोर्ट- रितुराज सिन्हा

    ये भी पढ़ें- झारखंड में मॉनसून की बेरुखी, जून में 61 फीसदी कम हुई बारिश

    रांची के इस आश्रम में एक बूंद पानी भी नहीं जाता नाले में

     

     

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज