Home /News /jharkhand /

अब बैद्यनाथ पेंटिंग्स में दिखेंगी बाबा मंदिर की परंपराएं

अब बैद्यनाथ पेंटिंग्स में दिखेंगी बाबा मंदिर की परंपराएं

बैद्यनाथ पेंटिंग

बैद्यनाथ पेंटिंग

जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रवि कुमार का कहना है कि बैद्यनाथ मंदिर से जुड़ी पेंटिंग्स की इस नई शैली को सरकार और जिला प्रशासन द्वारा भी प्रोत्साहित किया जाएगा.

    चित्रकला सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक परंपरा को सहेजने का सशक्त माध्यम होती है. लिहाजा देवघर के बाबा बैद्यनाथ मंदिर से जुड़ी परंपराओं, धार्मिक गतिविधियों और मान्यताओं को कैनवास पर उतारने का प्रयास शुरू किया गया है.

    नटराज की धरती देवघर की पहचान झारखंड की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में होती है. शिव की इस नगरी में धर्म के साथ-साथ कला और संस्कृति को भी फलने-फूलने
    का भरपूर मौका मिला है. इसी कड़ी में बाबा बैद्यनाथ मंदिर से जुड़ी धार्मिक परंपराओं, रीति-रिवाजों और पौराणिक मान्यताओं को अब चित्रकला की एक विशिष्ट शैली के जरिये कैनवास पर उकेरने का प्रयास किया जा रहा है.

    कला के क्षेत्र में अपनी पहचान बना चुके चित्रकार नरेंद्र पंजियारा इसे बैद्यनाथ पेंटिंग्स के नाम से लोगों तक पहुंचाने और अलग पहचान दिलाने के लिए मेहनत कर रहे हैं. उनका कहना है कि बैद्यनाथ पेंटिंग्स में शिव बारात, कांवर यात्रा, बाबा की दैनिक श्रृंगार पूजा, रुद्राभिषेक, जलार्पण, बिल्वपत्र प्रदर्शनी, गठबंधन जैसी बैद्यनाथ मंदिर से जुड़ी अनेक परंपरा और धार्मिक अनुष्ठान चित्रित किये जाएंगे. स्थानीय कलाकार नरेंद्र के इस प्रयास को सराह रहे हैं.

    जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रवि कुमार का कहना है कि बैद्यनाथ मंदिर से जुड़ी पेंटिंग्स की इस नई शैली को सरकार और जिला प्रशासन द्वारा भी प्रोत्साहित किया जाएगा. महत्वपूर्ण जगहों पर प्रदर्शनी लगाकर मंदिर की परंपराओं से लोगों को अवगत कराया जाएगा.

    (ऋतुराज सिन्हा की रिपोर्ट)

    ये भी पढ़ें- देवघर: युवाओं की अनूठी पहल, मरीजों के परिजनों को खिलाएंगे मुफ्त भोजन

    बोकारो में 17वीं झारखंड राज्यस्तरीय पुलिस शूटिंग प्रतियोगिता का शुभारंभ

     

    Tags: Deoghar news, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर