Home /News /jharkhand /

सभी पूजा पंडालों में मां के भक्तों सैलाब उमड़ा

सभी पूजा पंडालों में मां के भक्तों सैलाब उमड़ा

बाबा नगरी देवघर में अलग-अलग पूजा समितियों की ओर इस बार भी भव्य और आकर्षक पूजा पंडाल बनाए गए हैं. इन सभी पूजा पंडालों में पट खुलने के बाद से ही मां के भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया है.

बाबा नगरी देवघर में अलग-अलग दुर्गापूजा समितियों की ओर इस बार भी भव्य और आकर्षक पूजा पंडाल बनाए गए हैं. इन सभी पूजा पंडालों में पट खुलने के बाद से ही मां के भक्तों का तांता लगना शुरू हो गया है. दुर्गापूजा को लेकर लोगों में उत्साह देखते बन रहा है.

बिलासी टाउन स्थित टाउन क्लब की ओर से नशा के खिलाफ संदेश देते हुए अनोखे रूप में पूजा पंडाल का निर्माण किया गया है. सत्संग नगर स्थित महास्वास्तिका पूजा समिति की ओर से इस बार जहां पंडाल का बाहरी हिस्सा दक्षिण भारत के एक मंदिर का प्रारूप है, वहीं अंदरूनी बनावट मध्यप्रदेश के एक मंदिर के आंतरिक हिस्से की है. सत्संग नगर में पूजा समिति की ओर से रंगबिरंगे लाइट से पूजा पंडाल को सजाया गया है. मुख्य मार्ग को रगबिरंगी रोशनी से जगमाया गया है.

श्री कृष्णा पुरी पूजा समिति की ओर से इस बार भी भव्य पूजा पंडाल बनाया गया है. पूजा पंडाल तक पहुंचने के पूरे रास्ते में रंग बिरंगे लाइट लगाए गए हैं. इस बार पूजा समिति ने पूजा पंडाल को अक्षर धाम मंदिर का प्रारूप देने की कोशिश की है. इसके आलावा शहर के अलग-अलग हिस्सों में भी पूजा समितियों ने इस बार आकर्षक पंडालों का निर्माण कराया है. वर्णवाल पूजा समिति की ओर से जहां इस बार भी मझौले आकार का लेकिन आकर्षक पंडाल बनाया गया है, वहीं तिवारी चौक स्थित हनुमान टिकरी पूजा समिति ने भी आकर्षक पूजा पंडाल का निर्माण कराया है.

साथ ही हनुमान टिकरी पूजा समिति की ओर से स्वच्छता को लेकर संदेश देने की कोशिश की गई है. बीएन झा रोड स्थित हिन्दी विद्यापीठ पूजा समिति की ओर से 25 साल से पूजा का आयोजन किया जा रहा है. आज अष्टमी के मौके पर महिलाएं यहां पारंपरिक तरीके से पूजा करती दिखीं. वहीं बड़ा बाजार पूजा समिति की ओर से साधारण ही लेकिन भव्य पूजा पंडाल का निर्माण किया गया है. गोशाला पूजा समिति ने भी कुछ इसी अंदाज में पंडाल का निर्माण कराया है.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर