ज्ञानसेतु कार्यक्रम के जरिए शिक्षा में सुधार लाने की कोशिश

देवघर में जिला स्तर पर ऐसे 52 शिक्षकों को विशेष ट्रेनिंग दे कर उन्हें मास्टर ट्रेनर बनाया जा रहा है. 5 दिनों तक विशेषज्ञ शिक्षकों के जरिए यहां शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. इसके बाद प्रशिक्षित शिक्षक प्रखंड और फिर संकुल स्तर पर शिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे.

Rituraj Sinha | News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2018, 1:00 PM IST
ज्ञानसेतु कार्यक्रम के जरिए शिक्षा में सुधार लाने की कोशिश
भारत सरकार के निर्देश पर नीति आयोग के सहयोग से झारखंड में सरकारी स्कूल के शिक्षकों को विशेष ट्रेनिंग दी जा रही है.
Rituraj Sinha | News18 Jharkhand
Updated: June 14, 2018, 1:00 PM IST
सरकारी स्कूलों में उच्च प्राथमिक और माध्यमिक स्तर पर शिक्षा और शिक्षण के स्तर में सुधार लाने के प्रति सरकार ने गंभीरता दिखाई है. शिक्षा में सुधार लाने के उद्देश्य से झारखंड में ज्ञानसेतु कार्यक्रम की शुरुआत की गई है. इसके तहत भारत सरकार के निर्देश पर नीति आयोग के सहयोग से झारखंड में सरकारी स्कूल के शिक्षकों को विशेष ट्रेनिंग दी जा रही है.

देवघर में जिला स्तर पर ऐसे 52 शिक्षकों को विशेष ट्रेनिंग दे कर उन्हें मास्टर ट्रेनर बनाया जा रहा है. 5 दिनों तक विशेषज्ञ शिक्षकों के जरिए यहां शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. इसके बाद प्रशिक्षित शिक्षक प्रखंड और फिर संकुल स्तर पर शिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे. स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ बच्चों में सीखने की क्षमता विकसित करना ही इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य है.

हाल के वर्षों में झारखंड में मैट्रिक और इंटर के परीक्षा परिणाम उत्साहजनक नहीं बल्कि परेशान करने वाले रहे हैं. कारण चाहे जितने गिनाए जाएं इन स्कूलों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षण का अभाव इसकी बड़ी वजह रही है. देर से ही सही सरकार इस दिशा में गंभीर हुई है. अधिकारी को भी भरोसा है कि इस तरह के प्रशिक्षण से स्कूलों के शैक्षणिक माहौल में बड़ा परिवर्तन आएगा.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->