लाइव टीवी

खुले बाजार से अप्रामाणिक बीज खरीदने को मजबूर हुए किसान

Rituraj Sinha | News18 Jharkhand
Updated: July 2, 2018, 4:10 PM IST
खुले बाजार से अप्रामाणिक बीज खरीदने को मजबूर हुए किसान
देवघर में इस बार 52 हज़ार हेक्टेयर से अधिक भूमि पर धान की खेती का लक्ष्य रखा गया है.

बीज ग्राम से 2 हज़ार 80 क्विंटल धान का बीज पैक्सों को उपलब्ध कराने की स्वीकृति दी गई. लेकिन आज तक 50 प्रतिशत अनुदान वाला यह बीज किसानों के पास नही पहुंच पाया है. बीज डालने का समय निकलता देख मजबूरी में अधिकतर किसान खुले बाजार से मनमानी कीमत पर धान का बीज खरीद कर धान का बिचड़ा लगा चुके हैं.

  • Share this:
किसानों को समय पर अनुदानित बीज उपलब्ध कराने का सरकारी दावा कृषि मंत्री के गृह जिला में ही हवा-हवाई साबित हो रहा है. धान के बीज बोने का समय निकलता देख किसान खुले बाजार से अप्रामाणिक बीज खरीदने को मजबूर हैं. हालांकि कृषि मंत्री द्वारा अभी भी समय पर अनुदानित बीज उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया जा रहा है.

देवघर में इस बार 52 हज़ार हेक्टेयर से अधिक भूमि पर धान की खेती का लक्ष्य रखा गया है. किसानों को समय पर अनुदानित दर पर धान का बीज उपलब्ध हो सके इसके लिए जिला के 35 पैक्सों को अधिकृत कर किसानों तक धान का बीज उपलब्ध कराने का निर्णय विभाग द्वारा लिया गया. इसके लिए नेशनल सीड्स कॉर्पोरेशन और बीज ग्राम से पर्याप्त मात्रा में बीज मंगाने की स्वीकृति दी गई. अकेले बीज ग्राम से 2 हज़ार 80 क्विंटल धान का बीज पैक्सों को उपलब्ध कराने की स्वीकृति दी गई. लेकिन आज तक 50 प्रतिशत अनुदान वाला यह बीज किसानों के पास नही पहुंच पाया है. बीज डालने का समय निकलता देख मजबूरी में अधिकतर किसान खुले बाजार से मनमानी कीमत पर धान का बीज खरीद कर धान का बिचड़ा लगा चुके हैं.

लेकिन किसानों की परेशानियों से बेखबर सूबे के कृषि मंत्री को नहीं लगता है कि धान का बीज डालने का समय निकल चुका है. उनके द्वारा अभी भी किसानों को उचित समय पर बीज उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया जा रहा है. प्रत्येक वर्ष खरीफ फसल या रवी फसल के पहले किसानों को अनुदानित दर पर बीज उपलब्ध कराने के सपने दिखाए जाते रहे हैं. लेकिन हर बार किसानों को निराशा हाथ लगती रही है. इस बार भी वही हो रहा है. किसान कर्ज लेकर खुले बाजार से बीज खरीदने को मजबूर हैं. लेकिन सरकार खुद से अपना पीठ थपथपाने में मशगूल है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देवघर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2018, 4:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर