बाबानगरी देवघर में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला शुरू, CM रघुवर ने किया उद्घाटन

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा के आशीर्वाद से आज झारखंड विकसित राज्य की श्रेणी की ओर बढ़ रहा है. देश भर से देवघर आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है.

News18 Jharkhand
Updated: July 17, 2019, 3:44 PM IST
बाबानगरी देवघर में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला शुरू, CM रघुवर ने किया उद्घाटन
देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ मंदिर
News18 Jharkhand
Updated: July 17, 2019, 3:44 PM IST
श्रावण मास यानी सावन का महीना आज (17 जुलाई) से शुरू हो गया है. वहीं, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को देवघर के विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले का उद्घाटन किया. बिहार-झारखंड की सीमा पर स्थित दुम्मा प्रवेश द्वार पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि रावणेश्वर बैद्यनाथ सभी का कल्याण करें और राज्य की सवा तीन करोड़ जनता पर अपनी कृपा बरसाएं.

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा के आशीर्वाद से आज झारखंड विकसित राज्य की श्रेणी की ओर बढ़ रहा है. देश भर से देवघर आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है.



कांवरियों के लिए टेंट सिटी 
Loading...

एक महीना तक चलने वाले श्रावणी मेले में रोजाना एक लाख से ज्यादा श्रद्धालु पहुंचने की संभावना है. इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने कई तैयारियां की हैं. कोठिया में 1500 बेड वाले टेंट सिटी का निर्माण कराया गया है. इसमें 300 टॉयलेट और 80 बाथरूम की व्यवस्था है. 10 बाथरूम पर एक हजार लीटर क्षमता वाले पानी का टंकी लगाया गया है. वाहनों की पार्किंग के लिए भी विशेष व्यवस्था की गई है. ये सभी सुविधाएं नि:शुल्क हैं.

सुरक्षा के लिए 10 हजार जवान तैनात 
कोठिया से लेकर बाघमारा तक नया कांवरिया पथ तैयार किया गया है. इसमें रेत बिझाया गया है. रात के लिये लाइटिंग की व्यवस्था की गयी है. पूरे मेलाक्षेत्र को 32 थानाक्षेत्रों में विभाजित किया गया है. मेले में लगभग 10 हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है. इसमें जिलाबल,जगुआर, एटीएस, रैफ और एनडीआरएफ के जवान शामिल हैं. सभी थाना डीएसपी या इंस्पेक्टर रैंक के अधिकारी के अधीन होगा.

सीसीटीवी और ड्रोन से मेले पर नजर 
पुलिसकर्मियों को ये खास हिदायत दी गयी है कि वे किसी के साथ भी सख्ती से पेश नहीं आएं. इसबार कांवरियों की वेश में जवान मंदिर परिसर और आसपास में तैनात होंगे. पॉकेटमार और महिलाओं के साथ बदसलूकी करने वालों पर ये नजर रखेंगे. पूरे मेला क्षेत्र पर सीसीटीवी कैमरे और ड्रोन से नजर रखी जाएगी. कांवरियों के लिए बड़ी संख्या में डॉक्टरों को भी लगाया गया है. पांच बाइक एबुलेंस की भी व्यवस्था की गयी है. मेला क्षेत्र में चौबीसो घंटे बिजली रहेगी. जगह- जगह सूचना केंद्र बनाए गए हैं.

ये भी पढ़ें-

श्रावणी मेले को मिलेगा राष्ट्रीय मेले का दर्जा, राज्य सरकार केंद्र से करेगी सिफारिश

बाबा दरबार में रघुवर सरकार, ट्रेन से देवघर पहुंचे सीएम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देवघर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 17, 2019, 3:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...