श्रावणी मेला देवघर में पुलिस बल के साथ एनडीआरएफ व एटीएस टीम की तैनाती
Deoghar News in Hindi

श्रावणी मेला देवघर में पुलिस बल के साथ एनडीआरएफ व एटीएस टीम की तैनाती
बाबानगरी देवघर

श्रावणी मेला में पहली बार मुख्यमंत्री श्रद्धालुओं से ऑनलाईन सीधी बात करेंगे और मेला में की गई व्यवस्था की जानकारी लेंगे.

  • Share this:
श्रावणी मेला के दौरान बाबा नगरी देवघर आने वाले श्रद्धालुओं को कतारबद्ध और सुरक्षित जलार्पण कराने के लिए देवघर पुलिस ने तैयारी पूरी कर ली है. सुरक्षा के मद्देनजर की गई तैयारियों की जानकारी देते हुए देवघर के एसपी नरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि इस बार 8 हजार से अधिक पुलिस पदाधिकारियों और सुरक्षा कर्मियों को मेला के लिए प्रतिनियुक्त किया गया है. किसी भी तरह के आपदा से निपटने के लिए NDRF की टीम को तैनात किया गया है. साथ ही अर्द्ध सैनिक बल के अतिरिक्त आतंकवाद विरोधी दस्ता ATS की टीम को भी मेला पर नज़र रखने के लिए बुलाया गया है.

किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए बम स्क्वॉड और स्वान दस्ता को भी तैनात किया गया है. मंदिर सहित पूरे मेला क्षेत्र पर ड्रोन कैमरों से भी नज़र रखने की व्यवस्था की गई है. इस बार कुल 18 अस्थायी ओपी और 11 ट्रैफिक ओपी बनाया गया है जहां डीएसपी रैंक के अधिकारी को प्रभारी बनाया गया है. उन्होंने कहा कि एंटी टेरोरिस्ट स्कवॉड की दो टीमें होंगी. बॉम्ब डिसपोजल स्कवॉड की टीम भी होगी. रैपिड एक्शन फोर्स की दो कंपनियां भी होंगी. सीआरपीएफ महिला कंपनी भी होगी.  उन्होंने कहा कि सभी को उनकी जिम्मेदारियों के बारे में बता दिया गया है. श्रद्धालुओं से अच्छा व्यवहार करने के संदर्भ में भी बताया गया है.

एसपी ने कहा कि श्रावणी मेला के दौरान हर ओपी के अंदर स्वास्थ्य विभाग, डॉक्टर्स, फूड इंस्पेक्टर, बिजली विभाग, नगर निगम के लोग मौजूद रहेंगे. ऐसा इसलिए ताकि हर ओपी एक क्लस्टर के रूप में काम करे. जरूरतमंद श्रद्धालुओं को सुविधाएं तुरंत मिले इसे सुनिश्चित किया गया है. श्रावणी मेला के लिए हमारी तैयारी पूरी हो गई है.



देवघर एसपी ने बताया कि पहली बार मुख्यमंत्री द्वारा इस बार श्रद्धालुओं से ऑनलाईन सीधी बात कर मेला में की गई व्यवस्था की जानकारी ली जाएगी. प्रशासन की तरफ से और क्या किया जा सकता है इसकी जानकारी मु्ख्यमंत्री रघुवर दास हम सभी को देंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading