लाइव टीवी

धनबाद में कोयला खदान में हादसा, एक की मौत, 5 घंटे के बाद 4 मजदूरों को निकाला गया सुरक्षित
Dhanbad News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: May 23, 2020, 6:58 AM IST
धनबाद में कोयला खदान में हादसा, एक की मौत, 5 घंटे के बाद 4 मजदूरों को निकाला गया सुरक्षित
धनबाद में कोयला खदान हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि 4 को सुरक्षित बाहर निकाला गया

खदान (Coal Mine) के अंदर काम करने के लिए मजदूरों (Laborers) की टोली गई हुई थी. इसी दौरान खदान के अंदर ट्राली के टूटने से रूफ फॉल हो गया. इससे कोयले के मलबे में पांच मजदूर दब गए.

  • Share this:
धनबाद. झरिया में सेल की चासनाला कोलियरी (Coal Mine) में शुक्रवार रात बड़ा हादसा (Accident) हुआ. इस हादसे में खदान में काम कर रहे 5 मजदूर अंदर दब गए. एक मजदूर (Laborer) की मौत हो गयी, जबकि 5 घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue Operation) के बाद चार मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाला गया. चारों को इलाज के लिए सेल के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस हादसे की खबर जैसे ही मजदूरों के साथ-साथ स्थानीय लोगों को लगी, कोलियरी के पास भीड़ इकट्ठी हो गई. मजदूर और स्थानीय लोग कोई बवाल न खड़ा कर दे, इसलिए एसडीएम आर महेश्वर और एसडीपीओ सिंदरी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गये. इस दौरान मजदूरों ने सेल प्रबंधक के खिलाफ नाराजगी दिखाते हुए सुरक्षा को लेकर सवाल खड़ा किये. मृतक के परिजन के लिए मजदूरों ने प्रदर्शन कर नियोजन और मुआवजे की मांग की.

ऐसे हुआ हादसा 

घटना के विषय में बताया गया कि द्वितीय पाली में खदान के अंदर काम करने के लिए मजदूरों की टोली गई हुई थी. इसी दौरान खदान के अंदर ट्राली के टूटने से रूफ फॉल की घटना घटी. रूफ फॉल से कोयले के मलबे के अंदर पांच मजदूर दब गए. हादसे की सूचना मिलते ही माइंस के पास लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई. जिसके बाद सेल के अधिकारी और रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंचकर मजदूरों को बाहर निकालने का प्रयास शुरू किया. करीब 5 घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद चार मजदूरों को सुरक्षित निकाल लिया गया. हालांकि एक मजदूर की मौत हो गई. चारों घायलों को इलाज के लिए सेल के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.



सेल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप 



मजदूरों ने आरोप लगाया कि यह घटना सेल प्रबंधन की लापरवाही से हुई. ऐसे में पीड़ित परिवार को मुआवजे के साथ-साथ नौकरी भी दी जाए. ताकि परिवार का भरण-पोषण हो सके. मजदूरों ने अपनी सुरक्षा को लेकर सेल प्रबंधन पर कई गंभीर आरोप लगाए. सुन्दरलाल महतो नामक मजदूर ने कहा कि कोयला खनन का काम  शुरू करने से पहले प्रबंधक और सुरक्षा टीम को खदान का जायजा लेना होता है. तब मजदूरों को खदान के अंदर भेजा जाता है. पर सेल की कोलियरी में प्रबंधन के द्वारा सुरक्षा से हमेशा खिलवाड़ किया जाता रहा है. जिसका खामियाजा मजदूरों को भुगतना पड़ा.

इनपुट- दिलीप कुमार

ये भी पढ़ें- दुमका में अस्थायी लिपिकों का बड़ा फर्जीवाड़ा, अवैध रूप से निकाले 49.5 लाख रुपये

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 23, 2020, 6:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading