लाइव टीवी

धनबाद के बाघमारा में बोले अमित शाह- 55 सालों में कांग्रेस ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया

News18 Jharkhand
Updated: December 14, 2019, 5:10 PM IST
धनबाद के बाघमारा में बोले अमित शाह- 55 सालों में कांग्रेस ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया
झारखंड में विधान चुनाव को लेकर अमित शाह ने बाघमारा में चुनावी रैली को किया संबोधित

झारखंड में चौथे चरण के चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) के लिए केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को धनबाद के बाघमारा (baghmara) में प्रचार किया.

  • Share this:
झारखंड में चौथे चरण के विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) के लिए केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को धनबाद के बाघमारा (baghmara) में प्रचार किया. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा और कहा कि 55 सालों में कांग्रेस ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया.

राहुल गांधी की आंखों पर इटालियन चश्मा चढ़ा है- अमित शाह

इस दौरान इन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल गांधी की आंखों पर इटालियन चश्मा चढ़ा है. अमित शाह ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार के अब तक के 55 वर्षों के हिसाब पर, भाजपा के 5 साल के काम का हिसाब भारी पड़ेगा. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से झारखंड क्षेत्र में 22,000 किमी रोड का निर्माण हुआ था. बीजेपी सरकार के 5 साल के कार्यकाल में 22,865 किमी रोड निर्माण झारखंड में हुआ है. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए अमित ने कहा कि कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा को जब-जब मौका मिला, तब-तब दोनों ने ही झारखंड को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इस दौरान अमित शाह ने जनता से बीजेपी को वोट देने की अपील की. उन्होंने कहा कि कमल के फूल पर दबाया हुआ आपका बटन, झारखंड को हमेशा के लिए नक्सलवाद और भ्रष्टाचार से मुक्त कर देगा.

यह भी पढ़ें- झारखंड चुनाव 2019: गिरिडीह रैली में नागरिकता कानून पर अमित शाह बोले- नॉर्थ ईस्ट में आग लगा रहे विपक्षी

यह भी पढ़ें- झारखंड के विकास के लिए बीजेपी की सरकार जरूरी: अमित शाह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 4:55 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर