Home /News /jharkhand /

विधानसभा में सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट पेश

विधानसभा में सामाजिक-आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट पेश

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सरकार की ओर से पेश किए गए 2015-16 के आर्थिक सर्वेक्षण में राज्य की विकास दर पहले से बेहतर रही.

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सरकार की ओर से पेश किए गए 2015-16 के आर्थिक सर्वेक्षण में राज्य की विकास दर पहले से बेहतर रही.

झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सरकार की ओर से पेश किए गए 2015-16 के आर्थिक सर्वेक्षण में राज्य की विकास दर पहले से बेहतर रही.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    झारखंड विधानसभा के बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सरकार की ओर से पेश किए गए 2015-16 के आर्थिक सर्वेक्षण में राज्य की विकास दर पहले से बेहतर रही. योजना सह वित्त विभाग की ओर से जारी आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट को संसदीय कार्य मंत्री सरयू राय ने सदन में पेश किया.

    इसके मुताबिक वर्तमान सरकार ने सकल घरेलू उत्पाद के पिछले आंकड़ों को पीछे छोड़ते हुए 1,29,225 करोड़ का आंकड़ा छू लिया. विकास दर 8.33 फीसदी रही. चालू वित्त साल के अंत तक यह आंकड़ा 8.9 फीसदी तक पहुंचने का अनुमान जताया गया है.

    साल 2012-13 में यह आंकड़ा 1,00,460 करोड़, साल 2013-14 में 1,09,408 करोड़ और साल 2014-15 में 1,18,743 करोड़ था. चालू वित्त साल में सकल घरेलू उत्पाद में 0.3 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई.

    वहीं प्रति व्यक्ति आय का आंकड़ा भी 33,260 रुपए तक पहुंच गया. इसमें भी 0.3 फीसदी की वृद्धि हुई.

    हालांकि बैंकों के सीडी रेशियो में कमी आई है. अर्थशास्त्रियों के मुताबिक कई मामलों में ये आंकड़े राष्ट्रीय औसत से बेहतर हैं.

    साल 2004-05 से 2015-16 के बीच कृषि और इससे जुड़े क्षेत्र में अच्छी वृद्धि रही. स्थिर मूल्य पर इसकी विकास दर 8.59 फीसदी रही. इस अवधि में उद्योग में सिर्फ 4.22 फीसदी और सेवा क्षेत्र में 11.22 फीसदी वृद्धि दर्ज की गई. यह भी कहा गया है कि सकल घरेलू उत्पाद में सेवा और कृषि से संबद्ध क्षेत्रों का योगदान बढ़ा है. मगर औद्योगिक प्रदेश होते हुए भी इस क्षेत्र का योगदान घटा है.

    Tags: CM Raghubar Das, Jharkhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर