Home /News /jharkhand /

बचपन का प्यार नहीं दोस्ती भूल गया शख्स, दोस्त की पत्नी-बेटियों को लेकर भाग निकला, फिर...

बचपन का प्यार नहीं दोस्ती भूल गया शख्स, दोस्त की पत्नी-बेटियों को लेकर भाग निकला, फिर...

धनबाद में बचपन का प्यार नहीं बल्कि दोस्त ही बदल गया

धनबाद में बचपन का प्यार नहीं बल्कि दोस्त ही बदल गया

Jharkhand News : झारखंड के धनबाद जिले में एक मामला सामने आया हैं, जहां बचपन का प्यार नहीं बल्कि बचपन का दोस्त ही बदल गया है.

    संजय गुप्ता 

    धनबाद. बचपन का प्यार मेरा भूल नहीं जाना रे…यह वायरल गाना तो आपने सुना ही होगा. हालांकि, इस गाने में बचपन के प्यार यानि प्रेमिका से नहीं बदलने की बात कही जा रही है. लेकिन, झारखंड के धनबाद जिले में भी एक दूसरा मामला सामने आया हैं, जहां बचपन का प्यार नहीं बल्कि बचपन का दोस्त ही बदल गया है. दरअसल धनबाद जिले के महिला थाना में गांधीनगर के एक युवक बिनोद कुमार राम ने अपने ही बचपन के दोस्त शेखर शोनकर पर पत्नी और दो बच्चों को भगा ले जाने का आरोप लगाया है. पीड़ित बिनोद कुमार राम ने बताया कि उसकी शादी दस वर्ष पूर्व कतरास के दिवंगत डोमन रविदास की पुत्री ममता देवी से धनबाद के शक्ति मंदिर में समूहिक विवाह के तहत हुई थी. उसकी दो बेटियां भी है.
    बिनोद कुमार राम का कहना है कि पहले उन्होंने मामले की शिकायत धनसार थाने में की थी, लेकिन जब वहां कोई कार्रवाई नहीं हुई तो तो बुधवार को महिला थाना में मामला दर्ज करवाया. उन्होंने पत्नी और दोनों बच्चियों की वापसी की मांग करते हुए अपने धोखेबाज दोस्त शेखर शोनकर पर कार्रवाई की मांग की है.

    पीड़ित बिनोद कुमार ने बताया कि उनका दोस्त शेखर शोनकर बचपन का दोस्त है. उसका मेरे घर आना-जाना था. लेकिन मुझे क्या पता था कि मेरे दोस्त ही मेरे साथ धोखेबाजी करेगा. कब मेरे पत्नी के साथ उसको प्यार हुआ, पता ही नहीं चला और वह पिछले 13 अप्रैल को मेरे पत्नी और दो बच्चों को साथ लेकर भाग गया.

    पीड़ित ने कहा कि धनसार थाना में लिखित शिकायत देने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई. उन्होंने धनबाद की महिला थाना प्रभारी को लिखित आवेदन देकर उचित कार्रवाई करने की अपील की है.

    Tags: Crime News, Dhanbad news, Jharkhand news, Jharkhand Police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर