लाइव टीवी

सजा के बाद ढुल्लू महतो को मिली जमानत, बोले- ऊपरी अदालत का खटखटाएंगे दरवाजा

News18 Jharkhand
Updated: October 9, 2019, 5:38 PM IST
सजा के बाद ढुल्लू महतो को मिली जमानत, बोले- ऊपरी अदालत का खटखटाएंगे दरवाजा
ढुल्लू महतो 30 दिन के अंदर सजा के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील कर सकते हैं.

सजा के बाद विधायक ढुल्लू महतो को 10 हजार रुपये के निजी मुचलके पर कोर्ट से अंतरिम जमानत मिल गई. विधायक ने कहा कि उन्हें न्यायालय पर पूरा भरोसा है और वह इस सजा के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील करेंगे.

  • Share this:
धनबाद. कोर्ट (Dhanbad Court) से सजा मिलने पर बीजेपी विधायक ढुल्लू महतो (Dhullu Mahto)  ने कहा कि उन्हें न्यायालय पर पूरा भरोसा है. और वह इस सजा के खिलाफ ऊपरी अदालत में अपील करेंगे. विधायक ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा है कि ऊपरी अदालत से उनकी सजा माफ हो जाएगी. विधायक को 10 हजार के निजी मुचलके पर कोर्ट से अंतरिम जमानत (Provisional Court) मिल गई. इससे पहले कोर्ट ने उन्हें 2013 के एक मामले में 18 महीने यानी डेढ़ साल की सजा सुनाई. साथ ही 6 हजार रुपया जुर्माना भी लगाया. इस मामले में उनके अवाला 4 अन्य दोषियों को भी डेढ़-डेढ़ साल की सजा सुनाई गई. हालांकि एक आरोपी को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया गया.

6 साल बाद आया फैसला 

साल 2013 में बरोरा के तत्कालीन थानाप्रभारी आरएन चाैधरी ने कतरास थाने में विधायक ढुल्लू महतो के खिलाफ केस दर्ज कराया था. जिसके मुताबिक 12 मई 2013 को बरोरा पुलिस वारंटी राजेश गुप्ता को उसके निश्चितपुर स्थित आवास पर पकड़ने गई थी. राजेश गुप्ता को पकड़ भी लिया था. इस बात की जानकारी विधायक ढुल्लू महतो को लगी, तो वह अपने समर्थकों के साथ आए और गुप्ता को छुड़ाकर लेकर चले गए. इस दाैरान विधायक और उनके समर्थकों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की की थी.

इस सिलसिले में थानेदार आरएन चौधरी ने ढुल्लू महतो के अलावा राजेश गुप्ता, चुनचुन गुप्ता, रामेश्वर महतो, गंगा गुप्ता, बसंत शर्मा के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने और हिरासत से वारंटी को जबरन मुक्त कराने, पुलिस पर हमला करने, हथियार छिनने की कोशिश करने की प्राथमिकी दर्ज कराई थी. करीब 6 साल तक लंबी कानूनी प्रक्रिया के बाद कोर्ट ने इस मामले ढुल्लू महतो को डेढ़ साल की सजा सुनाई है. वैसे वह इस मामले में 11 महीना जेल पहले ही काट चुके हैं.

बच गई विधायकी 

हालांकि ढुल्लू महतो के लिए राहत की बात ये रही कि उन्हें दो साल से कम की सजा मिली. दो या दो साल से अधिक की सजा मिलने पर भारतीय जनप्रतिनिधत्व कानून के तहत उनकी विधायकी जा सकती थी. और वह अगला विधानसभा चुनाव भी नहीं लड़ पाते. कोर्ट के फैसले पर उनकी मां ने भी खुशी जाहिर की है. उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

रिपोर्ट- अभिषेक कुमार
Loading...

ये भी पढ़ें- वारंटी छुड़ाने के मामले में बीजेपी विधायक ढुल्लू महतो को डेढ़ साल की सजा, बच गई विधायकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 5:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...