लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ लामबंद हुए पार्टी नेता

अभिषेक कुमार | News18 Jharkhand
Updated: June 4, 2019, 6:08 PM IST
लोकसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ लामबंद हुए पार्टी नेता
प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ लामबंद हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक ने नाराजगी जताते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी में कहा कुछ जाता है और होता कुछ और ही है.

  • Share this:
झारखंड लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद कांग्रेस पार्टी में तूफान थमने का नाम नहीं ले रहा है. पार्टी के दिग्गज और वरिष्ठ नेताओं ने हार का सारा ठिकरा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय पर फोड़ा है और उनके खिलाफ लामबंद हो गए हैं. पूर्व प्रदेश मंत्री और वरीय नेता मन्नान मल्लिक ने न्यूज 18 से खास बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष के लिए डॉ. अजय को अयोग्य घोषित कर दिया. उनका कहना है कि वर्तमान लोकसभा चुनाव में हुए समझौते के मुताबिक, अब कांग्रेस को झामुमो के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ना चाहिए.

महागठबंधन के फॉर्मूले का हो सम्मान
झामुमो को बड़ा भाई मानते हुए कांग्रेस को महागठबंधन के फॉर्मूले का सम्मान करना चाहिए. लेकिन प्रदेश अध्यक्ष ऐसा नहीं कर पा रहे हैं और आए दिन दोनों ही ओर से कुछ ऐसे बयान आ रहे हैं जिससे एक-दूसरे के खिलाफ खटास बढ़ रही है. झारखंड में महागठबंधन इसीलिए हुआ था कि यहां बीजेपी को बढ़ने से रोका जाए. इसके लिए झामुमो ने लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को सहयोग दिया और विधानसभा चुनाव में कांग्रेस वो साथ देने से मुकर रहे हैं.

टिकट देने के नाम पर होता है धोखा

वहीं आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक नाराजगी जताते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी में कहा कुछ जाता है और होता कुछ और ही है. यहां टिकट देने के नाम पर धोखा बहुत मिलता है.  हालांकि उन्होंने कहा कि वे 71 साल के उम्र में भी फिट है. अगर पार्टी उनपर भरोसा करते हुए टिकट दे तो वे धनबाद विधानसभा से चुनाव में उतरने के लिए तैयार हैं. चुनाव लड़ने में उम्र कोई बाधा नहीं है.

बीजेपी के जाल में फंस रही हैं ममता बनर्जी
पूर्व मंत्री मन्नान की माने तो राहुल गांधी और सोनिया गांधी जी में पार्टी को संभालने पूरी क्षमता है. पार्टी में सुधार की जरूरत निचले स्तर पर है. उन्होंने कहा कि बीजेपी के जाल में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी फंस रही हैं. ‘जय श्रीराम’ को मुद्दा बनाकर भाजपा वोट हासिल करना चाह रही है. ये आस्था और विश्वास का मामला है. भगवान राम के नाम पर सियासत ठीक नहीं है.
Loading...

ये भी पढ़ें - डिस्चार्ज मिलने के बाद भी अस्पताल छोड़ने को तैयार नहीं ये महिला, प्रबंधन के लिए मुसीबत का सबब

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 4, 2019, 3:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...