धनबाद उपायुक्त ने पीएम की तर्ज पर शुरू किया 'अपनी बात'
Dhanbad News in Hindi

धनबाद उपायुक्त ने पीएम की तर्ज पर शुरू किया 'अपनी बात'
धनबाद उपायुक्त ए दोड्डे ने मोबाइल पर 'अपनी बात' कार्यक्रम की शुरुआत की

इस कार्यक्रम के तहत मोबाइल फोन पर जनता अपनी समस्याओं और शिकायतों को उपायुक्त या जिला प्रशासन के अधिकारी को सीधे अवगत करा सकेगी. एक घंटे तक चले इस कार्यक्रम में उपायुक्त ए दोड्डे ने जिले के विभिन्न प्रखण्डों के कुल तीस लोगों से बात की और उनकी समस्याओं को सुना.

  • Share this:
पीएम नरेंद्र मोदी की रेडियो पर 'मन की बात' की तर्ज पर गुरुवार से धनबाद उपायुक्त ए दोड्डे ने मोबाइल पर 'अपनी बात' कार्यक्रम की शुरुआत की. इस कार्यक्रम के तहत मोबाइल फोन पर जनता अपनी समस्याओं और शिकायतों को उपायुक्त या जिला प्रशासन के अधिकारी को सीधे अवगत करा सकेगी. जनता की फरियाद या सुझाव सुनने के बाद शिकायतों का समयबद्ध निष्पादन करने के लिए अधिकारियों को उपायुक्त निर्देशित करेंगे.

धनबाद समाहरणालय में उपायुक्त ने 'अपनी बात' कार्यक्रम का शुभारंभ जनता द्वारा जनहित के पूछे गए सवालों का स्वयं जवाब देकर किया. धनबाद जिला प्रशासन ने आज 31 जनवरी से 'अपनी बात' संवाद कार्यक्रम की शुरुआत की है. एक घंटे तक चले इस कार्यक्रम में उपायुक्त ए दोड्डे ने जिले के विभिन्न प्रखण्डों के कुल तीस लोगों से बात की और उनकी समस्याओं को सुना. कार्यक्रम के समाप्ति के पश्चात उपायुक्त कार्यालय से सम्बंधित विभाग के जिम्मेवार पदाधिकारी को आगे की कार्यवाई के लिए आदेशित किया.

सबसे अधिक पीने की पानी, जमीन म्यूटेशन में धांधली और सड़क की समस्या को लेकर लोगों ने फोन किए. कई लोगों को उपायुक्त ने अपने कार्यालय भी बुलाया ताकि उनकी समस्याओं को विस्तार से सुन कर उसका समाधान निकाला जा सके. आपको बात दें कि  इस कार्यक्रम के तहत प्रत्येक महीने के दो शनिवार को जिले के अलग-अलग विभाग के वरीय अधिकारी आम जनता की समस्याओं को मोबाइल नम्बर पर सुनेंगे और उसपर त्वरित करवाई होगी.



अगले शनिवार को एसएसपी कौशल किशोर जनता से फोन पर सीधे जुड़ेंगे और सवालों का जवाब देंगे. जिला प्रशासन जल्द ही एक वाट्सएप्प नम्बर भी जारी करेगी जिसपर लोग अपनी समस्याओं को रख पाएंगे. शिकायत भी दर्ज करा पाएंगे. आम लोगों ने उपायुक्त की इस पहल की सराहना की है.
यह भी पढ़ें- सदन में अखबार पढ़ रह थे मंत्री, स्पीकर ने डांट पिलाते हुए कहा- पढ़ना है तो जाएं वाचनालय

यह भी पढ़ें- झारखंड की बेटी सलीमा टेटे बनी जूनियर महिला हॉकी टीम की कप्तान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज