Home /News /jharkhand /

पैसे कमाने के लिए गैंगस्टर के नाम से मांगी 5 लाख की रंगदारी, दोनों आरोपी गये जेल

पैसे कमाने के लिए गैंगस्टर के नाम से मांगी 5 लाख की रंगदारी, दोनों आरोपी गये जेल

पुलिस ने छापेमारी कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

पुलिस ने छापेमारी कर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

Dhanbad News: डीएसपी ने कहा कि दोनों युवको का किसी भी गैंग से कोई ताल्लुकात नहीं है. दोनों ने पैसे कमाने के लिए रंगदारी मांगने की योजना बनाई और पहचान के कारोबारी को फोन कर 5 लाख की रंगदारी की मांग की.

रिपोर्ट- संजय गुप्ता

धनबाद. धनबाद के गोविंदपुर थानाक्षेत्र में व्यवसायी से 5 लाख की रंगदारी (Extortion) की मांग फोन पर की गई. मामले को लेकर व्यवसायी ने गोविंदपुर थाने में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करवाया. पुलिस ने मोबाइल नम्बर के सहारे जांच शुरू की और मोबाइल लोकेशन के आधार पर रंगदारी मांगने वाले दो युवकों को छापेमारी कर गिरफ्तार किया. पूछताछ में दोनों युवकों ने अपना गुनाह पुलिस के सामने स्वीकार कर लिया.

मामले की जानकारी देते हुए एसडीपीओ मुख्यालय अमर पांडेय ने बताया कि गोविंदपुर के छड़ और सीमेंट कारोबारी शक्ति सेल्स के मालिक राजेश अग्रवाल से गैंग्सटर अमन सिंह के नाम पर 5  लाख रुपये रंगदारी की मांग की गई थी. मामले में गोविंदपुर थाने की पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है. गोविंदपुर थाना क्षेत्र के पर्वतपुर गांव के सद्दाम अंसारी एवं तिलकरायडीह गायडहरा निवासी सुभान अंसारी को गिरफ्तार किया गया. पुलिस के सामने गिरफ्तार दोनों युवकों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया.

एसडीपीओ अमर पांडे ने बताया कि व्यवसाई राजेश अग्रवाल के द्वारा पिछले 3 तारीख को गोविंदपुर थाना में एक शिकायत दर्ज कराई गई थी. जिसमें कहा गया था कि अमन सिंह के नाम पर अलग-अलग नंबरों से 5 लाख की रंगदारी की मांग की जा रही है. पुलिस के द्वारा एक टीम का गठन किया गया. गठित टीम ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर दो युवकों को धर दबोचा. जिस मोबाइल और सिम से रंगदारी की मांग की गई थी, उस मोबाइल और सिम को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

पकड़े गए दोनों युवकों के नाम सद्दाम अंसारी और सुभान अंसारी हैं. पुलिस को अब तक दोनों के खिलाफ कोई भी अपराधिक इतिहास का रिकॉर्ड नहीं मिला है. डीएसपी ने कहा कि किसी भी गैंग से दोनों का किसी भी तरह के ताल्लुकात होने की बात सामने नहीं आई है. उन्होंने कहा कि पैसे कमाने के लिए दोनों ने इस शॉटकॉट तरीके को अपनाया.

सुभान अंसारी व्यवसाई राजेश अग्रवाल के घर में पूर्व में बिजली का काम कर चुका है. सुभान अंसारी को राजेश अग्रवाल की आर्थिक स्थिति के बारे में पूरी जानकारी है. इसी जानकारी का फायदा उठाते हुए उसने अपने साथी के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया.

Tags: Dhanbad news, Extortion, Jharkhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर