Home /News /jharkhand /

हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति चौधरी ठगी के आरोप में भुवनेश्वर से गिरफ्तार

हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति चौधरी ठगी के आरोप में भुवनेश्वर से गिरफ्तार

हाईटेक ग्रुप का निदेशक तिरुपति चौधरी अदालत से पुलिस हिरासत में निकलता हुआ

हाईटेक ग्रुप का निदेशक तिरुपति चौधरी अदालत से पुलिस हिरासत में निकलता हुआ

उड़ीसा के भुनेश्वर से गिरफ्तार किए गए हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति चौधरी को धनबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर आज धनबाद सीजेएम कोर्ट मे पेश किया. कोर्ट से उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति पर वर्ष 2013 में MBBS कोर्स में दाखिले के लिए एक छात्र के पिता रामाधार प्रतीक से 15 लाख रुपये की ठगी करने का आरोप है.

अधिक पढ़ें ...
उड़ीसा के भुनेश्वर से गिरफ्तार किए गए हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति चौधरी को धनबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर आज स्थानीय सीजेएम कोर्ट मे पेश किया. कोर्ट से उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. हाईटेक ग्रुप के निदेशक तिरुपति पर वर्ष 2013 में MBBS कोर्स में दाखिले के लिए एक छात्र के पिता रामाधार प्रतीक से 15 लाख रुपये की ठगी करने का  आरोप है. इस मामले में धनबाद कोर्ट से वारंट जारी था.

धनबाद के गोविन्दपुर थाने में तिरुपति चौधरी के ऊपर के जी आश्रम के रहने वाले रामाधार प्रतीक ने 2013 में कोर्ट के माध्यम से मामला दर्ज करवाया था, जिसमें कुल दस लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया था. इनमें तिरूपति चौधरी का नाम भी शामिल था. पुलिस ने मंगलवार को उसे भुवनेश्वर से गिरफ्तार कर ट्रांजिट रिमांड पर धनबाद लाई और फिर आज धनबाद कोर्ट में पेश किया. पुलिस  इस शख्स को पूछताछ के लिए रिमांड पर लेने की तैयारी कर रही है.

वहीं आरोपी के बचाव पक्ष अधिवक्ता ने कहा की उसके मुवक्किल के साथ धनबाद पुलिस गलत बर्ताव कर रही है. किसी और व्यक्ति के नाम पर पुलिस उसके क्लाइंट को गिरफ्तार कर लिया. उसे सीधे कोर्ट लाने के बजाय गोविंदपुर थाना ले गई. वकील का आरोप था कि पुलिस मामले की छानबीन नहीं की है. वहीं धनबाद एसएसपी किशोर कौशल ने दाखिले के नाम फर्जीवाड़े करने वाले आरोपी की गिरफ्तारी को धनबाद पुलिस के लिए बड़ी सफलता बताया.

यह भी देखें - VIDEO: नक्सलियों ने जनअदालत लगाकर मुखिया और बेटे को पीटा

यह भी देखें - PHOTOS: वरना उड़ जाती सुरक्षा बलों की टीम, समय रहते 20 किलो के केन बम का चला पता

Tags: Dhanbad news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर