लाल सलाम के बीच पंचतत्व में विलीन हुए राय दा, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

धनबाद में पूर्व सांसद एके रॉय का पार्थिव शरीर आज पंच तत्व में विलीन हो गया. राजकीय सम्मान के साथ मोहलबनी घाट पर अंत्योष्टि हुई और रॉय दा के छोटे भाई ने उन्हें मुखाग्नि दी.

अभिषेक कुमार | News18 Jharkhand
Updated: July 22, 2019, 8:42 PM IST
लाल सलाम के बीच पंचतत्व में विलीन हुए राय दा, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार
लाल सलाम के बीच पंचत्त में विलीन हुए राय दा, राजकीय सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार (फाइल फोटो)
अभिषेक कुमार | News18 Jharkhand
Updated: July 22, 2019, 8:42 PM IST
धनबाद में पूर्व सांसद एके रॉय का पार्थिव शरीर आज पंचतत्व में विलीन हो गया. राजकीय सम्मान के साथ मोहलबनी घाट पर अंत्योष्टि हुई और रॉय दा के छोटे भाई ने उन्हें मुखाग्नि दी. वहीं जिला पुलिस के जवानों ने गार्ड ऑफ़ ऑनर के साथ दी उन्हें अंतिम सलामी दी. इस दौरान मंत्री अमर बाउरी, उपायुक्त अमित कुमार समेत पक्ष विपक्ष के सैकड़ों नेता वहां मौजूद रहे.

रॉय दा को आखिरी विदाई देने और नमन करने के लिए पूरे कोयलांचल के मजदूर व आम लोगों का जन सैलाब उमड़ा
रॉय दा को आखिरी विदाई देने और नमन करने के लिए पूरे कोयलांचल के मजदूर व आम लोगों का जन सैलाब उमड़ा


आखिरी विदाई देने उमड़ा लोगों का जन सैलाब 

धनबाद में पूर्व सांसद एके रॉय का पार्थिव शरीर आज पंच तत्व में विलीन हो गया
धनबाद में पूर्व सांसद एके रॉय का पार्थिव शरीर आज पंच तत्व में विलीन हो गया


तिरंगे में लपेटे रॉय दा के पार्थिव शरीर की आखिरी विदाई देने और नमन करने के लिए पूरे कोयलांचल के मजदूर व आम लोगों का जन सैलाब उमड़ पड़ा. इसके पूर्व नूनूडीह मैदान में शोक सभा का आयोजन हुआ, जहां झामुमो सुप्रिमो शिबू सोरेन ने एके रॉय के पार्थिव देह पर फूल चढ़ाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किए. इस दौरान लाल सलाम, राय दा अमर रहे के नारों से कोयलांचल गुंजयमान रहा. वहीं महिलाएं, बच्चे बुजुर्ग सबकी आंखे अपनी प्रिय नेता के लिए नम हुई.

एके रॉय के निधन से प्रदेश में शोक की लहर

एके रॉय के निधन पर कोयलांचल सहित पूरे राज्य में शोक की लहर है
एके रॉय के निधन पर कोयलांचल सहित पूरे राज्य में शोक की लहर है ( फाइल फोटो: एके रॉय )

Loading...

बता दे कि तीन बार विधायक और तीन बार सांसद रहने के बावजूद एके रॉय ने अपने लिए कोई संपति नहीं बनाई और न ही सरकारी पेंशन को स्वीकार किया. राजनीति को समाज सेवा का साधन मानने वाले एके रॉय को उनके समर्थक राजनीतिक संत मानते है. एके रॉय के निधन पर कोयलांचल सहित पूरे प्रदेश में शोक की लहर है.

निधन पर रघुवर दास ने जताया शोक 

वही सूबे के मंत्री अमर बाऊरी ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने एके रॉय के निधन पर शोक जताया है और उनके आदेश पर ही राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया जा रहा है. इस दौरान बगोदर के पूर्व माले विधायक विनोद कुमार सिंह ने कहा कि आज के समय में एके रॉय जैसा सादगी और समर्पण और त्याग के साथ मजदूरों के लिए हमेशा संघर्ष करने वाला का नेता मिलना मुश्किल है. वहीं आम लोग भी अपने प्रिय नेता को याद करते हुए भावुक हो गए.

यह भी पढ़ें- धनबाद: 84 साल के पूर्व वामपंथी सांसद एके राय का निधन
First published: July 22, 2019, 8:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...