लाइव टीवी

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने सिंफर में राष्ट्रीय सेमिनार का किया उद्घाटन

Kumar Abhishek | News18 Jharkhand
Updated: August 24, 2018, 1:24 PM IST
राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने सिंफर में राष्ट्रीय सेमिनार का किया उद्घाटन
राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू

राज्यपाल डॉ द्रौपदी मुर्मू ने सिंफर सहित देश की सभी वैज्ञानिकों की उपलब्धि पर गर्व करते हुए कहा कि आप सब के भरोसे ही देश आगे बढ़ रहा है. तभी तो पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी बाजपेयी ने लाल बहादुर शास्त्री के नारे को आगे बढ़ाते हुए जय-जवान, जय-किसान के साथ जय-विज्ञान जोड़ा था.

  • Share this:
झारखंड की राज्यपाल डॉ द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को कोयलांचल धनबाद दौरे पर पहुंची. हेलिकॉप्टर से बरवाअड्डा एयरपोर्ट पर पहुंचने के बाद उपायुक्त, एसएसपी और सिंफर निदेशक ने महामहिम राज्यपाल का स्वागत किया. वहीं जिला पुलिस ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया.

राज्यपाल डॉ द्रौपदी मुर्मू ने देश के प्रसिद्ध वैज्ञानिक संस्था सिंफर में आयोजित राष्ट्रीय सेमिनार का दीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन किया. 24-25 अगस्त को होने वाले राष्ट्रीय सेमिनार में खनन पद्धति में उभरता आधुनिक तकनीक पर देश-विदेश के 200 वैज्ञानिक मंथन कर अपनी ज्ञान का आदान प्रदान करेंगे. इसमें भारत के कोल कंपनियों के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय जगत के 26 संस्थाएं भाग ले रही है.

सिंफर निदेशक डॉ पीके सिंह ने स्वागत भाषण के दौरान बताया कि भारत तेजी से खनिज क्षेत्र में शोध और तकनीक के मामले में आगे बढ़ रहा है. झारखंड खनिज उत्पादक राज्य होने के कारण कोयला सहित सभी खनिज जरूरतों को पूरा कर रहा है, जो इस वक्त देश की ऊर्जा शक्ति में काम आ रहा है. विदेशी निर्भरता को कम करने के लिए देसी तकनीक का तेजी से विकास किया जा रहा है. हाल ही में सिंफर ने जर्मनी के सहयोग से एनसीएल में लॉन्ग वाल तकनीक पर एमओयू किया है.

वहीं राज्यपाल डॉ द्रौपदी मुर्मू ने सिंफर सहित देश की सभी वैज्ञानिकों की उपलब्धि पर गर्व करते हुए कहा कि आप सब के भरोसे ही देश आगे बढ़ रहा है. तभी तो पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत अटल बिहारी बाजपेयी ने लाल बहादुर शास्त्री के नारे को आगे बढ़ाते हुए जय-जवान, जय-किसान के साथ जय-विज्ञान जोड़ा था.

उद्घाटन सत्र के बाद आज शुक्रवार को माइनिंग विशेषज्ञ, तकनीकी इंजीनियर्स और कोल सेक्टर से जुड़े प्रबंधक और उद्योगपति अपनी विचार साझा करेंगे. इस कार्यक्रम में राज्यपाल डॉ मुर्मू के अलावा एनसीएल के सीएमडी पी के सिन्हा, सिंफर डायरेक्टर डॉ पी के सिंह, आयोजन सचिव एस के सिन्हा, आइआइटी आइएसएम के डायरेक्टर डॉ राजीव शेखर, सिंफर के पूर्व निदेशक डॉ टी पी सिंह, डॉ अमलेन्दु सिन्हा, डीसी ए डोड्डे, एसएसपी मनोज रतन चौथे समेत दर्जनों वैज्ञानिक व गणमान्य जन उपस्थित रहे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 24, 2018, 1:18 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर