अपना शहर चुनें

States

गर्भपात से किया इंकार तो दिए तीन तलाक,घर वापसी को पंचायत ने सुनाया हलाला का फरमान

पीड़िता गुलशन परवीन
पीड़िता गुलशन परवीन

धनबाद के तोपचाची में एक शख्स ने अपनी बीवी को उसकी इच्छा के विरुद्ध बेटी पैदा होने के डर से पहले गर्भपात की दवा खिलाई और विरोध करने पर तलाक तलाक तलाक बोलकर बीवी को अपनाने से इंकार कर दिया.इस कानूनी तलाक के बाद हद तो तब हो गई जब स्थानीय पंचायत ने महिला को हलाला का पालन करने का फरमान सुना दिया.

  • Share this:
धनबाद के तोपचाची में एक शख्स ने अपनी बीवी को उसकी इच्छा के विरुद्ध बेटी पैदा होने के डर से पहले गर्भपात की दवा खिलाई और विरोध करने पर तलाक तलाक तलाक बोलकर बीवी को अपनाने से इंकार कर दिया.इस कानूनी तलाक के बाद हद तो तब हो गई जब स्थानीय पंचायत ने महिला को हलाला का पालन करने का फरमान सुना दिया.धनबाद के पीएमसीएच का चक्कर लगा रही महिला ने अपने ही शौहर पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है.वह अपनी किस्मत पर रो रही है क्योंकि इसके शौहर ने इस महिला को महज इसलिए हमेशा के लिए खुद से अलग कर दिया क्योंकि इसने बार-बार गर्भपात कराने से इंकार कर दिया था. पहले से दो बच्चे के बाप शाहिद अख्तर को इस बात का डर था कि इसके गर्भ में पल रहा 3 माह का नवजात बेटी ना हो जाए.

गुलशन परवीन नाम की इस महिला का निकाह पांच वर्ष पूर्व तोपचाची थाना क्षेत्र के लेदा टांड़ गांव में हुआ था. निकाह के बाद इन सालों के दरम्यान गुलशन को शाहिद अख्तर से 2 बच्चे हुए, जिसमें एक बेटी और एक बेटा शामिल है. महिला का आरोप है कि उसके दोनों बेटे बेटियों को उसके शौहर ने अपने पास रख लिया और उसे दर-दर भटकने के लिए छोड़ दिया है. अब पंचायत के द्वारा उसे  हलाला के लिए दबाव बनाया जा रहा है. मुस्लिम धर्म के अनुसार हलाला का मतलब हुआ दूसरे शख्स के साथ निकाह कर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने के बाद वापस उससे तलाक लेने के बाद पुनः पुराने शौहर से निकाह करना, जो उसे कतई मंजूर नहीं.

गुलशन परवीन का कहना है कि वह अपनी इज्जत को इस कदर सरे आम नीलाम नहीं करेगी घटना बीते शनिवार की है, जिसके बाद महिला स्थानीय तोपचाची थाना पहुंची लेकिन वहां महिला को न्याय नहीं मिला,ना ही उसके पति को बुलाकर मामले में सुलह कराया गया.वहीं जब पीड़िता ने देखा कि उसे  कहीं से भी न्याय की आस नहीं है तब उसने महिला क्रांति मोर्चा की संयोजक गीता सिंह से सम्पर्क किया.मामले में भाजपा नेत्री  गीता सिंह की अहम भूमिका ने कहा कि गुलशन की  शौहर ने गलत तरीके से तलाक दिया अब यह कानून के विरुद्ध है.गीता सिंह ने सरकार से हलाला के खिलाफ भी जल्द सख्त कानून बनाने की मांग की है. वहीं पीड़िता ने बुधवार को ग्रामीण एसपी से मिलकर भी न्याय की गुहार लगायी तो उन्होंने स्थानीय थाने को पूरा मामला की पड़ताल कर कार्रवाई का आदेश दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज