लाइव टीवी

धनबाद सीट पर टिकट के दावेदारों की लंबी लाइन, पार्टियों में बढ़ी उलझन

News18 Jharkhand
Updated: October 30, 2019, 3:22 PM IST
धनबाद सीट पर टिकट के दावेदारों की लंबी लाइन, पार्टियों में बढ़ी उलझन
धनबाद सीट पर कांग्रेस और बीजेपी से टिकट के लिए कई दावेदार हैं.

विधायक राज सिन्हा (MLA Raj Sinha) का कहना है कि धनबाद सीट (Dhanbad Seat) पर चाहे किसी की भी दावेदारी हो, लेकिन पार्टी का भरोसा उन्हीं पर होगा. अन्य दावेदारों पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव लड़ने वाले पांच साल कहीं नजर नहीं आए.

  • Share this:
धनबाद. झारखंड में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) की सरगर्मी तेज हो गयी है. धनबाद विधानसभा सीट (Dhanbad Seat) पर इस बार भाजपा (BJP) और कांग्रेस (Congress) के कई महारथी दावा ठोकने को तैयार हैं. पुराने चेहरों पर भरोसा जताया जाएगा या फिर दिग्गजों का टिकट काटकर नए चेहरे मैदान उतारे जाएंगे. सबकुछ भविष्य के गर्भ में है. वैसे इस सीट पर भाजपा की तुलना में कांग्रेस में ज्यादा उलझन दिख रही है. सूबे में कभी भी विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल बज सकता है.

धनबाद विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ने के लिए सबसे ज्यादा दावेदार कांग्रेस से हैं. धनबाद से विधायक रहे पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक इस बार भी इस सीट से चुनाव लड़ने के मूड में हैं. हालांकि 70 साल से अधिक उम्र होने और बेटे हुबान मल्लिक के एआईएमआईएम का दामन थाम लेने के कारण उनकी दावेदारी कमजोर हुई है. उनके अलावा कांग्रेस नेता सह जिप सदस्य अशोक कुमार सिंह भी इस लाइन में हैं.

धनबाद जिला कांग्रेस के अध्यक्ष ब्रजेन्द्र सिंह का कहना है कि उनके पास उम्मीदवारों की कोई कमी नहीं है. लेकिन लोकसभा चुनाव की तरह विधानसभा चुनाव में भी पैराशूट उम्मीदवार को नहीं उतारा जाना चाहिए. चेहरा नया हो, तो भी चलेगा, लेकिन स्थानीय उम्मीदवार को ही टिकट मिलना चाहिए.

धनबाद सीट पर वर्तमान में भाजपा का कब्जा है. यहां के वर्तमान विधायक राज सिन्हा फिर से चुनाव मैदान में दमखम के साथ उतरने को तैयार हैं. लेकिन उनके लिए परेशानी इसलिए खड़ी हो गयी है, क्योंकि सांसद पीएन सिंह के बेटे प्रशांत कुमार सिंह ने भी इस सीट अपनी दावेदारी पेश कर दी है. इनके अलावा केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के करीबी अमरेश सिंह, हाल में बीजेपी में शामिल हुईं जिला परिषद सदस्य प्रियंका पाल भी इस कतार में हैं.

विधायक राज सिन्हा का कहना है कि धनबाद सीट पर चाहे किसी की भी दावेदारी हो, लेकिन पार्टी का भरोसा उन्हीं पर होगा. वह अपने काम के आधार पर जनता के बीच जाएंगे. अन्य दावेदारों पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव लड़ने वाले पांच साल कहीं नजर नहीं आए, अब चुनाव के वक्त समाज सेवा का दिखावा कर रहे हैं.

भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह का कहना है कि दावेदारों की सूची बना ली गई है. उनके पास अब तक 14 नाम आए हैं. इस सूची को पार्टी नेतृत्व को भेजा जाएगा. बता दें कि धनबाद विधानसभा क्षेत्र में 5 लाख 80 हजार मतदाता हैं. पिछली बार यानी 2014 में विधायक राज सिन्हा ने पूर्व मंत्री मन्नान मल्लिक को लगभग 53 हजार मतों से हराया था. इस सीट पर हमेशा से भाजपा और कांग्रेस में सीधी भिड़ंत होती रही है. इस बार भी इन्हीं दोनों के बीच सीधी लड़ाई की उम्मीद है. धनबाद में इस बार कई मुद्दे हावी रहेंगे. इसमें शहर में फ़्लाई ओवर, एयरपोर्ट, विस्थापन -पुनर्वास, पेयजल, उद्योग, रोजगार  सहित कई समस्याएं शामिल हैं.

(रिपोर्ट- अभिषेक कुमार)
Loading...

ये भी पढ़ें- विधानसभा चुनाव के लिए माइनस जेवीएम बनेगा महागठबंधन! सीट शेयरिंग के इस फॉर्मूले पर बातचीत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धनबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 3:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...