कहीं खाना तो कहीं सुविधा का रोना, क्वारंटाइन सेंटर में मजदूरों ने किया हंगामा
Dhanbad News in Hindi

कहीं खाना तो कहीं सुविधा का रोना, क्वारंटाइन सेंटर में मजदूरों ने किया हंगामा
धनबाद के बाघमारा स्थित क्वारंटाइन सेंटर में हंगामा करते मजदूर

धनबाद के बाघमारा स्थित क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में खाना को लेकर मजदूरों ने हंगामा (Ruckus) किया, तो वहीं झरिया के क्वारंटाइन सेंटर में शौचालय गंदा होने पर गुस्सा फूटा.

  • Share this:
धनबाद. जिले में प्रवासी मजदूरों (Migrant Laborers) का आना लगातार जारी है. शारीरिक जांचकर सभी का क्वारंटाइन (Quarantine) भी किया जा रहा है. पर क्वारंटाइन किये गए मजदूर बेहतर सुविधा को लेकर हंगामा कर रहे हैं. कहीं बेहतर खाना की मांग, तो कहीं बेहतर सुविधा की मांग को लेकर मजदूरों ने प्रदर्शन (Protest) किया. गुरुवार को धनबाद से ऐसे दो मामले सामने आए. बाघमारा स्थित क्वारंटाइन सेंटर में खाना को लेकर मजदूरों ने हंगामा किया, तो वहीं झरिया के क्वारंटाइन सेंटर में शौचालय गंदा होने पर गुस्सा फूटा.

देर से नाश्ता मिलने पर बच्चे की तबीयत बिगड़ी  

बाघमारा के बीसीसीएल डुमरा क्षेत्रीय अस्पताल में बने क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूर समय पर नाश्ता नहीं मिलने से आक्रोशित हो गए. और अस्पताल परिसर में हंगामा करने लगे. मजदूरों ने बताया कि सुबह से उन्हें खाना का एक दाना भी नहीं मिला. खाना नहीं मिलने के कारण क्वारंटाइन किये एक बच्चा की हालत खराब हो गई. जिसको देखकर उसकी मां विचलित हो गई. इसी बात पर मजदूर हंगामा करने लगे. हालांकि अस्पताल प्रबंधन के द्वारा नास्ते का वितरण करने के बाद मजदूरों ने हंगामा शांत किया. एक दिन पहले ही ट्रेन से ये सभी धनबाद स्टेशन पर उतरे, जहां से इन्हें इस क्वारंटाइन सेंटर में भेजा दिया गया. फिलहाल यहां कुल 27 प्रवासी मजदूर हैं, जो बाघमारा प्रखण्ड के निवासी हैं. यहां रही रहीं सरिता की माने तो क्वारंटाइन में बड़ों के साथ-साथ छोटे-छोटे बच्चे भी हैं, लेकिन उन्हें समय पर खाना नहीं दिया जाता. खाना नहीं मिलने पर एक बच्चे को उल्टी होने लगी. इसलिए मजबूरी में हंगामा करना पड़ा.



शौचालय नहीं होने पर हंगामा
उधर, धनबाद के झरिया के क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूर को सुविधाओं को मलाल है. यहां दूसरे राज्यों या दूसरे जिले के प्रवासी मजदूर क्वारंटाइन में हैं. मजदूरों का आरोप है कि बेहतर सुविधा की बात तो दूर, उनके लिए ढंग के शौचालय तक की व्यवस्था नहीं है. लिहाजा मूलभूत सुविधा की मांग को लेकर यहां भी मजदूरों ने हंगामा किया. यहां रही रहीं कविता ने बताया कि इस क्वारंटाइन सेंटर में साफ़-सफाई की व्यवस्था नहीं हैं, शौचालय गंदे पड़े हैं. कमरे के बाहर वक्त गुजारना पड़ता है. कोरोना से जायदा क्वारंटाइन सेंटर में परेशानी है.

इनपुट- दिलीप कुमार

ये भी पढ़ें- झारखंड में इन शर्तों के साथ 1 जून से खुलेंगे सरकारी स्कूल

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading